मुंबई को 5 विकेट से हराकर गुजरात ने रचा इतिहास, पहली बार बना रणजी चैंपियन

इंदौर

गुजरात ने मुंबई को पांच विकेट से हराकर रणजी ट्रॉफी 2016-17 का खिताब जीत लिया है. गुजरात ने पहली बार यह खिताब जीता है. फाइनल में जीत के लिए मिले 312 रन के लक्ष्‍य को गुजरात ने कप्‍तान पार्थिव पटेल के शतक (143) के बूते 5 विकेट खोकर हासिल कर लिया.

रणजी ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में गुजरात ने सबसे बड़े लक्ष्‍य का पीछा करते हुए जीत दर्ज की है. इसी के साथ वह दिल्‍ली, होलकर, कर्नाटक और हरियाणा जैसी टीमों के ग्रुप में शामिल हो गर्इ है, जिसने फाइनल में मुंबई को हराकर रणजी ट्रॉफी जीती है.

गुजरात 17वीं टीम है जिसने रणजी ट्रॉफी जीती है. वहीं मुंबई 46वीं बार फाइनल में पहुंचा था जो कि एक रिकॉर्ड है. इससे पहले वह आखिरी बार 1950-51 में फाइनल में पहुंची थी. उस समय उसे होलकर टीम के हाथों हार झेलनी पड़ी थी.

इससे पहले मुंबई की पहली पारी 228 रन तक चली थी, इसके जवाब में गुजरात ने 328 रन बनाए. दूसरी पारी में मुंबई ने सुधरा हुआ प्रदर्शन किया. अभिषेक नायर (91, श्रेयस अयर (82) और आदित्‍य तारे (69) की अर्धशतकीय पारियों के बूते उसने 411 रन बनाए. इसके चलते गुजरात को जीत के लिए 312 रन का लक्ष्‍य मिला.

लक्ष्‍य का पीछा करते हुए गुजरात ने अच्‍छी शुरुआत की और पहले विकेट के लिए 47 रन जोड़े. लेकिन मैच के आखिरी दिन 51 रन पर उसके दो विकेट गिर गए. इसके बाद क्रीज पर आए कप्‍तान पार्थिव पटेल ने मनप्रीत जुनेजा (54) के साथ चौथे विेकेट के लिए 116 रन जोड़कर गुजरात को जीत की ओर ले गए. इसी बीच पटेल ने अपना शतक भी पूरा किया. जीत से 13 रन पहले वे शार्दुल ठाकुर की गेंद पर आउट हो गए. पटेल ने पहली पारी में भी 90 रन बनाए थे.

Share With:
Rate This Article