नेवी में शामिल हुई सबमरीन खांदेरी, टॉरपीडो के साथ ट्यूब से भी दागेगी एंटी शिप मिसाइल

नेवी में शामिल हुई सबमरीन खांदेरी, टॉरपीडो के साथ ट्यूब से भी दागेगी एंटी शिप मिसाइल

मुंबई

स्कॉर्पीन क्लास की दूसरी पनडुब्बी आईएनएस खंडेरी को आज मुंबई में लॉन्च किया गया. इस मौके पर मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड के परिसर में आयोजित कार्यक्रम में रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे मौजूद थे.

navy

डीजल और बिजली से चलने वाली ये पनडुब्बी दुश्मन नेवी पर हमला करने में कारगर साबित होगी. पनडुब्बी दुश्मन की पकड़ से बचने के लिए आधुनिक स्टेल्थ फीचर से लैस है. सटीक मारक क्षमता वाली मिसाइल के जरिए ये पनडुब्बी दुश्मन के छक्के छुड़ा सकती है.

navy1

मिसाइल लॉन्च के लिए आमतौर पर इस्तेमाल होने वाले टारपीडो के अलावा आईएनएस खंडेरी में ट्यूब से लॉन्च होने वाली एंटी शिप मिसाइल्स भी मौजूद हैं. ये मिसाइल्स पानी के अंदर या सतह से दागी जा सकती हैं.

navy2

सबमरीन को दुनिया के सभी हिस्सों में काम करने के लिए डिजाइन किया गया है. अत्याधुनिक संचार तकनीक इसकी क्षमता को बढ़ाती है. पनडुब्बी के जरिए ऐंटी-सरफेस और ऐंटी-सबमरीन लड़ने के अलावा खुफिया सूचनाएं भी जुटाई जा सकती हैं. इसके अलावा ये सबमरीन माइन बिछाने और इलाके की निगरानी करने में भी सक्षम है.

navy4

लॉन्चिंग के वक्त रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे ने उम्मीद जताई कि मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड से जल्द ही दूसरे देशों को भी सबमरीन सप्लाई की जाएंगी.

navy5

पनडुब्बी का नामकरण मराठा सेना के एक किले पर रखा गया है. एक द्वीप पर बने इस किले ने 17वीं सदी में मराठों का वर्चस्व कायम करने में मदद की थी.

navy6

स्कॉर्पीन सीरीज की पहली पनडुब्बी आईएनएस कलवरी को अप्रैल 2015 में लॉन्च किया गया था. इसका ट्रायल अभी जारी है. उम्मीद है कि आईएनएस कलवरी जून तक नेवी के बेड़े का हिस्सा बन जाएगी. जबकि आईएनएस खंडेरी का ट्रायल दिसंबर तक चलेगा.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment