वक्त बताएगा लोढ़ा पैनल की सिफारिशों का असर: शिर्के

बीसीसीआई के पूर्व सचिव अजय शिर्के ने कहा कि ये आने वाले वक्त में ही बताएगा कि लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों का क्या फायदा होगा. अबतक 21 क्रिकेट एसोसिएशन ने लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों को लागू कर दिया है.

हर राज्य क्रिकेट संघ का ढांचा अलग है
हर राज्य क्रिकेट संघ का ढांचा थोड़ा अलग है इसलिए लोढ़ा कमेटी की सिफारिशें को लागू अलग-अलग तरीके से किया जाएगा. जब शिर्के से ये पूछा गया कि क्या फिर से रिव्यू पिटीशन के बारे में सोच रहे हैं तो इस पर शिर्के ने कहा कि हम सब हम अब बीसीसीआई के पूर्व अधिकारी हो चुके हैं. इससे ज्यादा मैं कुछ और कुछ नहीं बोल सकता हूं.

सिफारिशें कितनी असरदार होंगी समय बताएगा:शिर्के
लोढ़ा कमेटी की एक अहम सिफारिश यह भी है कि नौ साल के बाद तक कोई भी अधिकारी अपने पद पर बना नहीं रहे सकता. इस पर शिर्के ने कहा कि मैच, फिक्सिंग, स्पॉट फिक्सिंग चीजों को रोकने के लिए इस सिफारिश को लागू किया गया  है. लेकिन इससे क्रिकेट कितना साफ होगा. इससे देखने में भी समय लगेगा.

पुराने कानून के तहत चल रहा IPL और BCCI
आईपीएल गवर्निंग काउंसिल बीसीसीआई का ही हिस्सा है. जो पुराने कानून के तहत चल रहा है. लेकिन लोढ़ा कमेटी ने दोनों को अलग-अलग करने की सिफारिश की है. क्रिकेट की किसी पैरेंट बॉडी पर एक ही व्यक्ति का होल्ड होगा. इस पर भी शिर्के ने कहा कि आने वाले समय में ही इस बारे में पता चलेगा की ये सिफारिश कितना असरदार है.

दूसरे खेलों इसका क्या असर होगा
शिर्के से जब पूछा गया कि 9 साल से ज्यादा तक कोई भी अधिकारी अपने पद पर नहीं बैठ सकत  क्या लोढ़ा पैनल की इस सिफारिश से दूसरे खेलों पर भी कोई असर पड़ेगा. इस पर शिर्के ने कहा कि दूसरे खेलों पर इसका क्या असर पड़ेगा इसके बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं हैं.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment