पहाड़ दरकने से जिंदा दफन हुए चार मजदूर, सड़क निर्माण के दौरान हुआ हादसा

रामपुर

शिमला के साथ लगते रामपुर से करीब 60 किलोमीटर दूर स्थित पंचायत काशापाट के पूना में पीडब्लूडी की सड़क के निर्माण के दौरान एक दर्दनाक घटना घटी. जहां एक ढांक के भरभरा कर गिरने से 4 मजदूर जिंदा दफन हो गए. बताया जा रहा है कि दुर्गम पंचायत होने के कारण घटना के कई घंटे बाद मुख्यालय के अधिकारियों को इसकी जानकारी मिली.

देर रात तक शवों को निकालने का काम जारी था लेकिन बारिश और अंधेरा होने की वजह से शवों को नहीं निकाला जा सका. पुलिस थाना रामपुर के तहत दुर्गम पंचायत काशापाट के पूना में पीडब्ल्यूडी की एक सड़क का निर्माण चल रहा था. इस दौरान शाम करीब 5 बजे अचानक ढांक गिर गई. जिससे ये घटना घटी.

सड़क निर्माण के चलते ऊपर पहाड़ी से भूस्खलन हो गया, जिससे ढांक नीचे आ गई. इससे वहां पर मौजूद चार मजदूर इसकी चपेट में आए गए. डीएसपी सोमदत्त ने बताया कि मृतकों की पहचान नेपाल निवासी अजय, लोकेंद्र, देवेंद्र और राम बहादुर के रूप में हुई है.

हादसे की सूचना रामपुर पुलिस को दी गई. पुलिस ने स्थानीय लोगों और अन्य मजदूरों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी कर आज मलबे से चारों शव निकाले और उनको पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. वहीं, पीडब्लूडी के एक्सइएन केके कौशल ने बताया कि रोड के निर्माण का काम ठेकेदार राजेंद्र नेगी को दिया गया था. बताया कि निर्माण के दौरान सुरक्षा मानकों की चूक हुई होगी तो ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

Share With:
Rate This Article