बिहार CM नीतीश कुमार से अमीर हैं लालू यादव के बेटे तेज प्रताप और तेजस्वी यादव

पटना

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अमीर उनके कई मंत्री हैं. मुख्यमंत्री के पास कुल 56 लाख रुपये की चल-अचल संपत्ति है. इसमें दिल्ली में 1000 वर्गफुट में बने एक फ्लैट, जिसकी वर्तमान कीमत 40 लाख रुपये है, इसके अलावा 10 गायें और पांच बछड़े हैं. राज्य सरकार ने लगातार छठी बार मुख्यमंत्री समेत कैबिनेट मंत्रियों की संपत्ति सार्वजनिक की है.

2010 में जब नीतीश कुमार ने तीसरी बार सरकार का कामकाज संभाला था, तो उन्होंने अपनी और अपने मंत्रियों की संपत्ति को प्रत्येक वर्ष ऑनलाइन जारी करने की घोषणा की थी. 23 दिसंबर, 2016 को जारी दस्तावेज के मुताबिक मुख्यमंत्री के पास 42,566 रुपये नकद हैं. यह पिछले साल की तुलना में करीब दो हजार रुपये अधिक है. उनके तीन बैंक खातों में लगभग 78 हजार रुपये जमा हैं. उनके पास दो गाड़ियां (एक इको स्पोर्ट्स और एक हुंडइ की आइ 10 कार) हैं.

सीएम नीतीश के इकलौते बेटे के पास एक करोड़ 11 लाख रुपये की चल-अचल संपत्ति है. मुख्यमंत्री के नाम पर न तो कहीं खेतिहर जमीन है और न ही पटना में उनके नाम कोई आवासीय भूखंड है. मंत्रियों की संपत्ति का ब्योरा राज्य सरकार की सरकारी वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है. इसे कोई भी व्यक्ति देख सकता है.

व्यक्तिगत तौर पर आकलन करने पर मुख्यमंत्री से अधिक संपत्ति उनके मंत्रियों के पास दिखती है. मंत्रिपरिषद में सबसे अधिक संपत्ति वाले सहकारिता मंत्री आलोक मेहता हैं. उनके पास 6.36 करोड़ की कुल संपत्ति है. वहीं, परिवहन मंत्री चंद्रिका राय 6.20 करोड़ की संपत्ति के साथ दूसरे स्थान पर हैं, जबकि जल संसाधन मंत्री करीब साढ़े तीन करोड़ की संपत्ति के साथ  तीसरे नंबर पर हैं.

वहीं, उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के पास करीब डेढ़ करोड़ रुपये की चल-अचल संपत्ति है. वह पांचवें स्थान पर हैं. 2015-16 में उन्होंने 92 हजार 991 रुपये आयकर के रूप में जमा किये हैं. इनके छह बैंक खातों में करीब 16 लाख रुपये जमा हैं. तेजस्वी से धनवान उनके बड़े भाई व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव हैं. उनके पास तीन करोड़ से अधिक की संपत्ति है. वह एक बीएमडब्लयू कार और 15 लाख की मोटरसाइकिल के मालिक हैं.

खास बात यह कि मुख्यमंत्री से अधिक उनके बेटे निशांत के पास चल-अचल संपत्ति है. मुख्यमंत्री के नाम सिर्फ दिल्ली में एक फ्लैट है, जिसकी मौजूदा कीमत 40 लाख रुपये है. उनके नाम कहीं खेतिहर जमीन नहीं है. मुख्यमंत्री के पुत्र के पास उनकी पुश्तैनी जमीन और कंकड़बाग के जगनपुरा इलाके में 2524 वर्गफुट जमीन है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment