अरुणाचल में अब बीजेपी सरकार, पेमा खांडू समेत 33 विधायकों ने थामा भाजपा का दामन

अरुणाचल में अब बीजेपी सरकार, पेमा खांडू समेत 33 विधायकों ने थामा भाजपा का दामन

ईटानगर

मुख्यमंत्री पेमा खांडू के नेतृत्व में पीपुल्स पार्टी ऑफ अरुणाचल (पीपीए) के 43 में से 33 विधायकों के भाजपा में शामिल होने के बाद पार्टी ने आज अरुणाचल प्रदेश में अपनी सरकार का गठन किया. खांडू ने विधानसभा अध्यक्ष तेंजिंग नोरबू थोंगदोक के सामने विधायकों की परेड कराई. विधानसभा अध्यक्ष ने विधायकों के भाजपा में शामिल होने को मंजूरी दे दी.

पूरा नाटकीय घटनाक्रम गुरुवार को शुरू हुआ जब पीपीए के अध्यक्ष काहफा बेंगिया ने कथित पार्टी विरोधी गतिविधि के लिए खांडू, उपमुख्यमंत्री चौवना मेन और पांच विधायकों को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया.

राज्य में नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (एनईडीए) सरकार की गठबंधन सहयोगी पीपीए ने कल टकाम पेरियो को राज्य का नया मुख्यमंत्री चुना था. हालांकि राजनीतिक समीकरण तब बदल गए जब शुरुआत में पेरियो को समर्थन देने वाले पीपीए के अधिकतर विधायक बाद में खांडू के खेमे में चले गए.

खांडू ने विधानसभा परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘अरूणाचल प्रदेश में आखिरकार कमल खिल गया. राज्य में लोग नए सरकार के नेतृत्व में नए साल में विकास की नई सुबह देखेंगे.’’ भाजपा में विलय के फैसले पर प्रकाश डालते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि परिस्थितियों ने विधायकों को लोगों एवं राज्य के हित में यह फैसला लेने के लिए मजबूर कर दिया.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment