PM मोदी ने डिजिटल ऐप BHIM लॉन्च किया, बोले- अब आपका अंगूठा ही आपका बैंक और पहचान है

दिल्ली

राजधानी दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में आज 30 दिसंबर को लकी ग्राहक योजना का पहला लकी ड्रॉ हुआ. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल पेमेंट्स को आसान बनाने के लिए मोबाइल ऐप BHIM लॉन्च किया है. इस ऐप का नाम डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के नाम पर ‘भीम’ रखा गया है. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि तकनीक अमीरों का ही नहीं गरीबों का भी खजाना है.

उन्होंने यह भी कहा कि बाबा साहब बहुत महान अर्थशास्त्री थे. उनके विचारों का परिणाम ही था कि देश में केंद्रीय बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की शुरुआत हुई. कैशलेस अर्थव्यवस्था पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि आपका अंगूठा, आपका बैंक और आपका अंगूठा आपकी पहचान है. अंबेडकर के बारे में बोलते हुए कहा कि वह दलित, पीड़ित लोगों के मसीहा थे.

उन्होंने समाज के सबसे अंतिम व्यक्ति के लिए संघर्ष किया. जंगलों में रहने वाले आदिवासियों के लिए संघर्ष किया. इसीलिए, इस तरह की नई शुरुआत का नाम बाबा साहब के नाम पर रखा गया. भीम ऐप दुनिया के लिए अजूबा होगा.

उन्होंने व्यापार योजना ड्रॉ पर बोलते हुए कहा कि 100 दिन में लाखों परिवार में इनाम जाएगा. 100 दिनों तक हर रोज 15 हजार लोगों को एक हजार रुपये का इनाम मिलेगा. 14 अप्रैल को बाबा साहेब की जयंती के दिन इसका मेगा ड्रा होगा.

उन्‍होंने कहा कि आशावादियों के लिए हजार मौके हैं. उन्‍होंने देश की डिजिटल ताकत के बारे में कहा कि ईवीएम क्रांति लाने का वाला देश भारत है. साथ ही जोड़ा कि आशावादियों के लिए हजार मौके हैं जबकि कुछ लोगों का जीवन ही निराशा से शुरू होता है.

पीएम ने चिदंबरम पर चुटकी लेते हुए कहा कि पहले की सरकारों में घोटालों की खबरें होती थीं. अब ऐसा नहीं होता है. उन्‍होंने कहा कि एक नेता ने कहा कि नोटबंदी का कदम खोदा पहाड़ और खोजी चुहिया जैसा है. पीएम ने कहा कि उनको तो चुहिया ही निकालनी थी क्‍योंकि वही तो कुतर-कुतर कर सब खा जाती है.

पीएम मोदी ने मीडिया का भी आभार व्यक्त किया. कहा- यदि वे किसी चीज पर निश्चय कर लेते हैं तो वह हो जाती है. मीडिया ने लाल बत्ती के खिलाफ अभियान शुरू किया तो वे लोग जो इसके योग्य थे, वे भी इसका इस्तेमाल करने से हिचकने लगे. मीडिया ने हेलमेट पहनने के लिए अभियान चलाया, आज लोग हेलमेट पहनने लगे. यह कोई छोटी सेवा नहीं है. मोदी ने मीडिया के स्वच्छता अभियान के संबंध में किए गए काम को भी सराहा.

पीएम मोदी ने कहा कि मैं एक सकारात्मक आदमी हूं. मैं मीडिया में केवल अच्छाई देखता हूं. आने वाले दिनों में मीडिया देश के लिए बहुत बड़ी सेवा कर सकता है. मीडिया ने इस मुद्दे को उठाया कि सबसे पास स्मार्टफोन नहीं है तो ऐसे में सरकार को सोचना पड़ा कि भीम ऐप ऐसा बनाया जाना चाहिए जोकि फीचर फोन में भी काम कर सके. अब कुछ दिन बाद ही मीडिया लोगों से पूछना शुरू करेगा कि क्या वे भीम का इस्तेमाल कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारत पहले सोने की चिड़िया था लेकिन हम अपनी गलतियों की वजह से गरीब हो गए लेकिन भारत में अभी भी एक बार फिर सोने की चिड़िया बनने की क्षमता है. देश ईमानदारी की राह पर चलना चाहता है, हमको इसे प्रोत्साहित करना चाहिए.

Share With:
Rate This Article