‘दंगल’ ने बॉक्स ऑफिस पर चित किया ‘सुल्तान’ को, 150 करोड़ के क्लब में शामिल हुए

आमिर खान की क्रिसमस पर रिलीज़ हुई फिल्म ‘दंगल’ बॉक्स ऑफिस पर भी दंगल मचा रही है. आमिर खान, साक्षी तंवर, फातिमा सना शेख और सान्या मल्होत्रा अभिनीत ‘दंगल’ बॉक्स ऑफिस पर 150 करोड़ के आंकड़े को पार कर चुकी है.
dangal2
डायरेक्टर नितेश तिवारी ने अखाड़े के दंगल को इस तरह परदे पर उतारा है कि हर सीन, हर एक्सप्रेशन, हर डायलॉग सब रियलिस्टिक लगते हैं. लेकिन फिल्म देखने वाले लोगों के ज़हन में फिल्म के बाद एक शख्स के बारे में जानने की इच्छा बहुत अधिक बढ़ गई है वो हैं प्रमोद कदम.

जी हां आखिर ये प्रमोद कदम हैं कौन? फिल्म में नेशनल स्पोर्ट्स अकेडमी में गीता-बबीता के कोच का किरदार प्रमोद कदम नाम से दिखाया गया है. लेकिन असल जीवन में गीता और बबीता फोगट के कोच और कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान रेसलिंग में भारत के प्रमुख कोच प्यारे लाल सोंधी इस फिल्म में दिखाए गए अपने नेगेटिव किरदार से बेहद नाखुश हैं.
dangal3
प्रमुख अखबार आनंद बाज़ार पत्रिका से खास बातचीत में सोंधी ने कहा कि ‘फिल्म को हिट कराने और रोमांचक बनाने के लिए फिल्म में उनके किरदार के साथ ये खिलवाड़ किया गया है. ’पी.आर. सोंधी ने कहा कि ‘फिल्म में उनके बारे में दुष्प्रचार किया गया है और उनसे जुड़ी दिखाई गई सभी बातें निराधार हैं.
dangal4
जबकि असल जीवन में ऐसा बिल्कुल भी नहीं था. पीआर सोंधी ने कहा कि गीता और बबीता उनकी बेटियों जैसी हैं जबकि महावीर सिंह फोगाट के साथ पिछले 15 सालों से उनके बहुत अच्छे रिश्ते हैं और वो उनके पुराने दोस्त हैं. सोंधी ने इसके साथ ही निराशा के साथ कहा कि ‘जिनके साथ इतने अच्छे संबंध थे उनकी जानकारी में होने के बावजूद उन्होंने फिल्म में मेरा सपोर्ट नहीं किया. जबकि फिल्म को ऐसी ही परोसा जाने दिया गया.’

फिल्म के आखिरी सीन में महावीर सिंह फोगाट को स्टेडियम के कमरे में बंद किए जाने वाले सीन पर भी सोंधी ने अपनी सफाई देते हुए कहा कि ‘ऐस सरासर गलत है, एक नेशनल कोच अगर किसी को कमरे में बंद कर देता तो नेशनल मीडिया उसे ज़रूर रिपोर्ट करता और ये बात किसी से छुपी नहीं रहती.

मुझे लगता है क्लाइमैक्स में इस तरह का झूठा सीन फिल्माया जा रहा था इसी वजह से फिल्म की आखिरी सीन की शूटिंग के दौरान मुझे सेट पर नहीं बुलाया गया.’इससे पहले बी पी.आर. सोंधी से आमिर खान ने कुछ टिप्स लिए थे और फिल्म की शूटिंग के दौरान फगवाड़ा में उनसे मुलाकात भी की थी.

फिल्म में दिखाए गए अपने किरदार से सोंधी इतने निराश हैं कि उन्होंने कहा ‘मैं फिल्म में दिखाए गए अपने किरदार के बारे में पहले आमिर से बात करूंगा और अगर मैं संतुष्ट नहीं हुआ तो इस मामले पर कानूनी कारवाई भी करूंगा.’ इसके साथ ही सोंधी ने कहा कि ‘आमिर जैसे इतने बड़े अभिनेता से ऐसी उम्मीद नहीं थी.’नेशनल कैंप के दौरान सोंधी गीता को अपनी बेटी बुलाते थे लेकिन फिल्म में उनका ऐसा किरदार दिखाया गया है इसलिए उन्होंने तय किया है कि अब वो फोगाट परिवार के साथ आगे कोई भी संबंध नहीं रखेंगे.

पीआर सोंधी के साथ ही रेसलिंग फेडरेशन ने भी दंगल में दिखाए गए तथ्यों को सिरे से नकार दिया है. उन्होंने कहा कि सोंधी जी बहुत पुराने कोच हैं और उनके साथ इस तरह दिखाई गई चीज़ों को बर्दाश नहीं किया जाएगा. नेशनल कैंप या फिर कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान फिल्म में दिखाई गई किसी भी प्रकार की घटना नहीं हुई थी.’

Share With:
Rate This Article