नए नोट छापने में आ सकती है परेशानी, कर्मचारियों ने ओवर टाइम करने से किया मना

नोटबंदी के फैसले के बाद नई करेंसी की छपाई का दौर तेजी से चल रहा है, भारतीय रिजर्व बैंक के करेंसी प्रिंटिंग प्रेस में लगातार 500 और 2000 रुपये के नए नोटों की छपाई की जा रही है, नोटों की लगातार छपाई के बाद भी नई करेंसी की कमी के चलते आम जनता को परेशानी हो रही है.

एटीएम और बैंक में लोगों की भीड़ देखी जा रही है, हालात से निपटने के लिए करेंसी प्रिंटिंग प्रेस में ओवरटाइम तक कराया जा रहा है जिससे नए नोटों की कमी से आम जनता को हो रही परेशानी से निपटा जा सके, इस बीच मिल रही जानकारी के मुताबिक पश्चिम बंगाल के सालबोनी में करेंसी प्रिंटिंग प्रेस में काम करने वाले कर्मचारियों के एक वर्ग ने ओवरटाइम से इंकार कर दिया है.

उन्होंने साफ कह दिया है कि वो 9 घंटे से ज्यादा की शिफ्ट नहीं करेंगे। उनके इस फैसले का असर नोट छपाई पर हो सकता है, भारतीय रिजर्व बैंक नोट मुद्रण प्राइवेट लिमिटेड (बीआरबीएनएमपीएल) कर्मचारी एसोसिएशन ने अथॉरिटी को नोटिस जारी करके कहा है कि 14 दिसंबर से लगातार ओवरटाइम करने की वजह से कई कर्मचारी बीमार हो गए हैं.

Share With:
Rate This Article