विश्व बैंक पूरा करे सिंधु जल समझौते का वादा : पाकिस्तान

पाकिस्तान ने विश्व बैंक से सिंधु जल संधि के संबंध में अपने दायित्वों को पूरा करने का आह्वान किया है और उसने किशनगंगा और रातले परियोजनाओं को लेकर भारत-पाक विवाद के संबंध में दो प्रक्रियाओं पर रोक को लेकर आपत्ति की है.

पाकिस्तान के वित्त मंत्री इशाक डार ने विश्व बैंक अध्यक्ष जिम कोंग किम को भेजे पत्र में कहा कि संधि ऐसी स्थिति उपलब्ध नहीं कराती, जहां एक पक्ष अपने दायित्वों को पूरा ना करे.

डार ने कहा कि पंचाट का पैनल बनाने की प्रक्रिया पर स्थगन लगाने के विश्व बैंक के फैसले से संधि के तहत पाकिस्तान के हितों एवं अधिकारों को नुकसान पहुंचेगा.

रेडियो पाकिस्तान ने खबर दी है, ‘यह (पत्र) कड़े शब्दों में कहता है कि पंचाट के अध्यक्ष की नियुक्ति में बहुत देरी कर दी गई है. पत्र विश्व बैंक से सिंधु जल संधि के तहत अपने दायित्वों को पूरा करने की अपील करता है.’ डार ने कहा कि स्थगन पाकिस्तान को सक्षम मंच के पास जाने से एवं अपनी शिकायतों का निवारण कराने से रोकेगा.

Share With:
Rate This Article