जम्मू संभाग में सीजन की पहली बर्फबारी

जम्मू

जम्मू संभाग के पहाड़ी क्षेत्रों में शनिवार मध्य रात्रि सीजन की पहली बर्फबारी हुई. जबकि कुछेक निचले व ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हल्की बूंदाबांदी व तेज बारिश भी हुई. लंबे समय से बेरुखी दिखा रहे मौसम के मिजाज के अचानक करवट बदलने से पर्यटकों के चेहरे खिल उठे हैं.

वे इसे क्रिसमिस का तोहफा मान रहे हैं. पर्यटन स्थल पत्नीटॉप के पहाड़ों के अलावा नत्थाटॉप, डेराटॉप, स्योजदार, भद्रवाह, बनी, बिलावर के अलावा ऊधमपुर जिले के पहाड़ी इलाकों में बर्फ की पतली सफेद चादर बिछ गई. मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक मौसम आगे तेजी से बदलेगा. नत्थाटॉप, बसंतगढ़, लाटी के अलावा चिनैनी क्षेत्र के ऊपरी इलाकों में सुबह बर्फबारी देख लोग हैरान रह गए.

उनका कहना था कि रात तक सबकुछ सामान्य था. यह चमत्कार है. रविवार को क्रिसमस और ऊपर से बर्फबारी. फिर क्या था पर्यटकों के वाहनों के रुख नत्थाटॉप तरफ हो गए. अन्य राज्यों से आए पर्यटकों का वहां तांता लग गया. जम्मू, ऊधमपुर से भी बड़ी संख्या में लोग पत्नीटॉप पहुंचे. स्पेशल टूरिस्ट टैक्सी ऑपरेटर यूयिनन के अध्यक्ष एवं फोटोग्राफर यूनियन के अध्यक्ष सुभाष डोगरा के मुताबिक रविवार को नत्थाटॉप में दो सौ छोटे-बड़े यात्री वाहनों से सैलानी पहुंचे.

उम्मीद है कि इस बार सर्दी का सीजन अच्छा लगेगा. नत्थाटॉप में छह इंज तक हिमपात हुआ. वहीं एयरफोर्स के मौसम विभाग के मुताबिक हल्की बर्फबारी के बाद अब 28 दिसंबर को फिर बारिश और बर्फबारी का पूर्वानुमान है. पहाड़ी तहसील बनी में शनिवार रात करीब बारह बजे के बाद शुरू हुई बारिश सुबह तीन बजे के आसपास थमी. ऊंचे पहाड़ी क्षेत्र दौले माता, कमलोगला, देरीगला, ढग्गर, दंडी गुट्टू, मंदी धार में तीन से चार सेंटीमीटर तक बर्फबारी हुई. बारिश और बर्फबारी के बाद रविवार को ठंडी हवा से दिनभर क्षेत्र में ठंड रही. बिलावर के मल्हार तहसील के पहाड़ों में एक से डेढ़ फीट बर्फबारी हुई. सुबह हुई हल्की बूंदाबादी से लोगों ने राहत की सास ली है.

Share With:
Rate This Article