अब पासपोर्ट बनवाना हुआ और आसान, बर्थ सर्टिफिकेट नहीं होगा अनिवार्य

दिल्ली

अब पासपोर्ट बनवाने के लिए बर्थ सर्टिफिकेट देना जरूरी नहीं होगा. सरकार ने डेट ऑफ बर्थ के सबूत के तौर पर बर्थ सर्टिफिकेट की अनिवार्य जरूरत (mandatory requirement) को खत्म कर दिया है.

इसके अलावा साधु-संन्यासी अब माता-पिता के नाम की जगह अपने स्पीरिचुअल गुरु (आध्यात्मिक गुरु) का नाम भी लिख सकेंगे. सरकार ने शुक्रवार को नए पासपोर्ट रूल्स की जानकारी दी.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने बताया, ‘पासपोर्ट के लिए एप्लिकेशन देते वक्त डेट ऑफ बर्थ के सबूत के तौर पर ट्रांसफर/स्कूल लीविंग/ मैट्रीकुलेशन सर्टिफिकेट/ पैन कार्ड और आधार कार्ड/ई-आधार में से कोई एक डॉक्युमेंट दिया जा सकेगा. इनके अलावा DOB के प्रूफ के लिए एप्लिकेंट के सर्विस रिकॉर्ड की कॉपी, ड्राइविंग लाइसेंस, इलेक्शन फोटो आईडेंटिटी कार्ड (EPIC) और एलआईसी पॉलिसी बॉन्ड को भी वैलिड डॉक्युमेंट का दर्जा दिया गया है.’

Share With:
Rate This Article