नोटबंदी में कैश की किल्लत जारी, कैश न मिलने से प्रभावित किसान और व्यापारी

नोटबंदी का आज 44वां दिन है लेकिन आज भी लोगों को कैश की किल्लत से परेशान होना पड़ रहा है, बैंकों और एटीएम के बाहर लंबी कतारें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं, हरियाणा में परेशानी जस की तस बनी हुई है.

ज्यादातर इलाकों में बैंक और एटीएम में कैश नहीं है, जिससे लोगों को मायूस होकर खाली हाथ घर लौटना पड़ रहा है, कैश की किल्लत का दुकानदारों पर भी खासा असर पड़ रहा है, व्यापार प्रभावित है, वहीं किसानों की मानें तो नोटबंदी के चलते धान की खरीद भी प्रभावित हो रही है.

उधर दूसरी तरफ बैंकों में पैसा न होने से न सिर्फ लोग परेशान हैं, बल्कि इसको लेकर बैंक कर्मचारियों में भी गुस्सा है, उनका कहना है कि आरबीआई से डिमांड के मुताबिक पैसा नहीं मिल रहा है, जिसके चलते वो कस्टमर को पैसा नहीं दे पा रहे हैं, और उन्हे कस्टमर के गुस्से का सामना करना पड़ रहा है.

Share With:
Rate This Article