तमिलनाडु: मुख्य सचिव राम मोहन राव के घर इनकम टैक्स विभाग का छापा

चेन्नई

आयकर विभाग ने बुधवार की सुबह तमिलनाडु के मुख्य सचिव राममोहन राव के चेन्नई स्थित घर पर छापा मारा है. राव का घर चेन्नई के अन्ना नगर में है. इसके अलावा आयकर विभाग तमिलनाडु में सात दूसरी जगहों पर भी छापे मार रहा है.

बताया जा रहा है कि मुख्य सचिव के रिश्तेदारों के यहां भी छापा मारा गया है. आरंभिक जानकारी के अनुसार आयकर विभाग को करीब 100 करोड़ रुपये और 100 किलो सोना बरामद हुआ है.

कहा जा रहा है कि राव के करीबी शेखर रेड्डी पर भी आयकर विभाग ने कार्रवाई की है. आयकर विभाग ने दोनों द्वारा कई संपत्तियों के खरीद फरोख्त के सबूत सामने आने के बाद यह कार्रवाई की है. रेड में इससे जुड़े दस्तावेज में अधिकारियों को मिले हैं.

बताया जा रहा है कि राव ने मुख्यमंत्री जयललिता के निधन के बाद शशिकला के लिए पार्टी और सरकार में वर्चस्व की लड़ाई में उनका साथ दिया था. तमिलनाडु और पड़ोसी राज्य आंध्रप्रदेश के विभिन्न स्थानों पर की गई यह छापेमारी सुबह छह बजे शुरू हुई. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘कुल 13 परिसरों की तलाशी ली जा रही है.’’ उन्होंने बताया कि ये परिसर राव के बेटे और उनके अन्य संबंधियों से जुड़े हैं.

ऐसा माना जा रहा है कि राज्य की राजधानी के प्रधान सचिव का आधिकारिक आवास भी इस अभियान के दायरे में लाया गया है. राव को राज्य सरकार ने इसी साल जून में राज्य का शीर्ष अफसरशाह नियुक्त किया था.

उन्होंने कहा कि ये छापेमारियां नोटबंदी के बाद हुई नकदी और सोने की भारी कमी के दौरान विभाग की ओर से की जा रही जांचों से जुड़ी हैं. इस मुहिम में अब तक 142 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति बरामद की जा चुकी है.

एस रेड्डी समेत राज्य में कई रेत खनन संचालकों के खिलाफ कार्रवाई में अकेले एक मामले में ही 170 करोड़ रुपये जब्त किए गए हैं. कर विभाग द्वारा एजेंसी के साथ आधिकारिक दस्तावेज साझा किए जाने पर प्रवर्तन निदेशालय ने इस मामले में धनशोधन से जुड़ी एक शिकायत भी दर्ज की है.

Share With:
Rate This Article