आतंकवाद के खिलाफ भारत-ताजिकिस्तान हुए एकजुट, कई अहम समझौते भी किए

दिल्ली

भारत और ताजिकिस्तान ने शनिवार को अच्छे और बुरे के भेदभाव के बिना सभी तरह के आतंकवाद का खात्मा करने का आह्वान किया. साथ ही दोनों देशों ने द्विपक्षीय संबंध मजबूत करने, आतंकवाद के खिलाफ सहयोग बढ़ाने और रक्षा व सुरक्षा संबंधों का विस्तार करने का संकल्प भी व्यक्त किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत यात्रा पर आए ताजिकिस्तान के राष्ट्रपति एमोमाली रहमान ने क्षेत्रीय सुरक्षा के लिए अफगानिस्तान में शांति, स्थायित्व और विकास को बढ़ावा देने के साझा हितों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त की. साथ ही उन्होंने अफगानिस्तान के नेतृत्व में शांति प्रक्रिया का आह्वान भी किया. दोनों नेताओं के बीच वार्ता के बाद जारी संयुक्त बयान के मुताबिक, दोनों नेताओं ने आतंकवाद के प्रायोजन, समर्थन और उनकी सुरक्षित पनाहगाह को जड़ से खत्म करने का आह्वान किया.

उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासभा में अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद पर व्यापक समझौते को जल्द से जल्द अपनाने के लिए कार्य करने का संकल्प व्यक्त किया. साथ ही दोनों नेताओं ने संयुक्त राष्ट्र ढांचे में व्यापक सुधार की जरूरत पर बल दिया और राष्ट्रपति रहमान ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारतीय दावेदारी के प्रति ताजिकिस्तान के समर्थन को भी दोहराया.

Share With:
Rate This Article