जाट आरक्षण संघर्ष समिति का दिल्ली में प्रदर्शन, बीजेपी कार्यालय के बाहर की नारेबाजी

दिल्ली

अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति की ओर से अपनी मांगों को लेकर दिल्ली के अशोक रोड के राष्ट्रीय बीजेपी कार्यालय पर एक दिन का धरना दिया गया. इस मौके पर समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक भी मौजूद थे.

उन्होंने बताया कि नौ राज्यों के जाटों के आरक्षण को सुप्रीम कोर्ट की ओर से रद्द करने के बाद पीएम और अमित शाह ने आश्वासन दिया था कि जाटों को ओबीसी वर्ग में शामिल किया जाएगा, लेकिन दो साल होने को हैं.जाटों को अभी तक आरक्षण नहीं मिला.

इस मौके पर जाट समुदाय के लोगों ने एक ज्ञापन सौंपकर जाट समाज की आठ मुख्य मांगों के बारे में बताया.

Share With:
Rate This Article