48 ग्राहकों ने पेटीएम को लगाया 6.15 लाख रुपये का चूना

दिल्ली

ऐसे समय में जब नोटबंदी ने जेब खाली कर रखी है और PM नरेंद्र मोदी डिजिटल पेमेंट को जीवनशैली बनाने की अपील कर रहे हैं, देश की नबंर वन मोबाइल वॉलेट कंपनी पेटीएम ने अपने साथ धोखाधड़ी का दावा किया है.

पेटीएम का दावा है कि 48 ग्राहकों ने उनके साथ धोखा किया है और उनके 6.15 लाख रुपये उड़ा लिए हैं. CBI ने इस मामले में केस दर्ज किया है.

पेटीएम देश की सबसे बड़ी मोबाइल वॉलेट कंपनी है और इसके पास 15 करोड़ से ज्यादा एक्टिव ग्राहक हैं. इसके जरिए ई-कॉमर्स और बिल पेमेंट किए जा सकते हैं.

सरकार के नोटबंदी के फैसले बाद जब लोग परेशान हो गए तो उन्होंने ई-वॉलेट का विकल्प अपनाया. पेटीएम की चांदी हो गई. हर रोज पेटीएम से हजारों लोग जुड़ने लगे, जिसमें आम लोगों के साथ छोटे दुकानदार भी शामिल हैं.

लेकिन अब ये दुकानदार परेशान हैं. कभी इनके पैसे फंस जा रहे हैं तो कभी सप्लायर पेटीएम से भुगतान लेने से मना कर देता है.

बीते बुधवार को कुछ देर के लिए पेटीएम का सर्वर डाउन रहा, जिसके चलते लोगों को भुगतान लेने में दिक्कतें रही. और अब पेटीएम ने अपने लुटने का दावा किया है.

Share With:
Rate This Article