नोटबंदी के बाद आयकर विभाग ने 586 जगह की छापेमारी, बरामद किए 2,900 करोड़ रुपए

दिल्ली

केंद्र सरकार की ओर से लिए गए नोटबंदी के फैसले को एक महीना बीत चुका है और इस अवधि के दौरान आयकर विभाग ने करीब 586 स्थानों पर छापेमारी की. छापेमारी के दौरान विभाग ने 300 करोड़ रुपए से ज्यादा की नकदी, 2000 रुपए के नए नोट जिनका मूल्य 79 करोड़ रुपए है और 2600 करोड़ रुपए की अघोषित आय बरामद की है.

आयकर विभाग की ओर से की गई छापेमारी में सबसे बड़ी बरामदगी तमिलनाडु से हुई है, जिसमें विभाग को एक बार में ही 100 करोड़ रुपए से ज्यादा का कैश मिला है. तमिलनाडु के एक स्थान से कुल 140 करोड़ रुपए और 52 करोड़ रुपए का सोना मिला है.

इसी तरह दिल्ली के एक वकील के घर हुई छापेमारी में विभाग को 14 करोड़ रुपए मिले, इस वकील ने अक्टूबर के महीने में अपनी 125 करोड़ रुपए की अघोषित आय का खुलासा किया था. दो हफ्ते पहले कर विभाग के अधिकारियों ने इस व्यक्ति के बैंक (जहां पर उनका खाता है) जाकर करीब 19 करोड़ रुपए जब्त किए.

आयकर विभाग ने बीते बुधवार को खुलासा किया था कि बैंक ऑफ महाराष्ट्र की पार्वती ब्रांच में एक ही व्यक्ति के पास 15 बैंक लॉकर्स हैं. इन 15 लॉकर्स में 9.85 करोड़ कैश, 2000 रुपए के नए नोट जिनका मूल्य 8 करोड़ रुपए है और शेष राशि 100 रुपए नोटों में थी. शहर में इस तरह की एक अन्य छापेमारी में विभाग ने 94.50 लाख रुपए बरामद किए, जिसमें 80 लाख रुपए के नए नोट मिले. पुणे में किए गए सर्च ऑपरेशन में कुल 10.80 करोड़ रुपए जब्त किए गए जिसमें से 8.8 करोड़ रुपए के नए नोट बरामद हुए.

Share With:
Rate This Article