अग्नि-5 परमाणु मिसाइल का अंतिम टेस्ट करने की तैयारी में, चीन- पाक के खेमे में मची हलचल

भारत परमाणु क्षमता से लैस इंटर कॉन्टिनेंटल बैलिस्ट‍िक मिसाइल अग्नि-5 का परीक्षण करने की तैयारी में है. परीक्षण की तैयारियां अंतिम चरण में हैं जिसे दिसंबर के आखिर या जनवरी के शुरुआत में अंजाम दे दिया जाएगा.

इससे पहले अग्नि-5 के तीन परीक्षण हो चुके हैं, आखिरी परीक्षण जनवरी 2015 में हुआ था. उस वक्त कुछ तकनीकी खामियां आई थीं जिन्हें दुरुस्त कर लिया गया है, यह अग्नि-5 मिसाइल का आखिरी टेस्ट होगा. यह मिसाइल चीन के सुदूर उत्तर इलाके में मार करने में सक्षम है.

इस वजह से इस टेस्ट को रणनीतिक तौर पर बेहद अहम माना जा रहा है. इसकी जद में समूचा चीन, एशिया महाद्वीप और यूरोप तथा अफ्रीका के कुछ हिस्से भी आ जाएंगे, अग्नि-5 मिसाइल जब सेना के बेड़े में शामिल हो जाएगा तो भारत इंटर कॉन्टिनेंटल बैलिस्ट‍िक मिसाइल रखने वाले सुपरएक्सक्लूसिव क्लब में शामिल हो जाएगा. अभी इस क्लब में अमेरिका, रूस, चीन, फ्रांस और ब्रिटेन ही हैं. इंटर कॉन्टिनेंटल बैलिस्ट‍िक मिसाइलों की मारक क्षमता 5000-5500 किलोमीटर से ज्यादा होती हैं.

Share With:
Rate This Article