भारत के बाद वेनेजुएला ने लिया नोटबंदी का फैसला

काराकस

भारत में 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों की बंदी के बाद अब वेनेजुएला में भी वहां का सबसे ज्यादा कीमत वाला नोट बंद कर दिया गया है. इस दक्षिणी अमेरिकी देश ने 100 बॉलिवर के नोट को चलन के बाहर करने का ऐलान किया है.

यहां के राष्ट्रपति ने यह फैसला तब लिया है जबकि उसकी देश की अर्थव्यवस्था बहुत अच्छी नहीं है. वह गंभीर आर्थिक संकट से जूझ रहा है. यहां महंगाई की दर सबसे अधिक है. वेनेजुएला में नोटबंदी के ऐलान के बाद भारत की ही तरह वहां के लोग भी सीधा एटीएम की तरफ कूच किए. राष्ट्रपति ने कहा है कि ‘माफियाओं’ से निपटने के लिए उन्होंने यह कदम उठाया है. उन्होंने माफियाओं पर ऐसे नोटों की जमाखोरी करने का आरोप लगाया.

वेनेजुएला के प्रेजिडेंट निकोलस मदूरो ने रविवार को नोटबंदी का ऐलान किया और लोगों को 100 बॉलिवर नोटों को बदलने के लिए 10 दिनों का वक्त दिया गया है. सरकार इन नोटों के बदले में सिक्के लाएगी.

डेलीमेल की खबर के मुताबिक, इस कदम का मकसद इकॉनमी में शामिल अवैध करंसी को बाहर करना है. राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने हवाई, समुद्र और सड़क आदि रास्तों को बंद करने का हुक्म दिया है ताकि धोखाधड़ी से देश के बाहर जमा किया गया पैसा वापस न आ पाए.

Share With:
Rate This Article