RBI की बैंकों को चेतावनीः नहीं बचेंगे गड़बड़ी करने वाले, CCTV से रखी जा रही है नजर

दिल्ली

8 नवंबर को नोटबंदी का ऐलान हुए आज 35वां दिन हो गया है. 35 दिन बीतने के बाद भी बैंकों और एटीएम के बाहर भीड़ कम होने का नाम नहीं ले रही है. वहीं जिस कालेधन को रोकने के लिए नोटबंदी का ऐलान किया गया था, उसपर भी पूरी तरह रोकथाम हुई ऐसा नहीं लगता. कई बैंकों से लगातार खबरें आती रहीं कि वहां भारी मात्रा में नोटों को जमा कराया और बदला गया.

इसी पर कड़ा रुख लेते हुए सोमवार को आरबीआई ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और कालेधन पर बैंकों को सतर्क रहने को कहा है. आरबीआई ने कहा कि अगर बैंकों में कालेधन को बदलने का खेल चल रहा है तो ऐसे बैंकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. नोट बदलने और पैसे जमा करने में कोई गड़बड़ी ना होने के लिए बैंकों को निर्देश दिए गए हैं.

आरबीआई ने साफ कहा है कि अगर किसी भी तरह की गड़बड़ी दिखाई देगी तो दोषी बैंक कर्मचारियों को सस्पेंड किया जाएगा और उनके खिलाफ बड़ी कार्रवाई होगी. जांच एजेंसी से पता चलने पर ऐसे बैंकों के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जा सकता है. कालेधन को बदलने पर चौकन्ना रहने की सलाह देते हुए आरबीआई ने कहा कि कालेधन के खेल से बैंक अलर्ट रहें.

वहीं, आरबीआई ने नोटबंदी के आंकड़ें जारी करते हुए बताया है कि 10 दिसंबर तक बैंकों में 12.44 लाख करोड़ रुपये के पुराने नोट बैंक में जमा हुए हैं. ये आंकड़ा सरकार की उम्मीद से कहीं ज्यादा बताया जा रहा है. वहीं 10 दिसंबर तक देश के बैंकों में लोगों ने 4.63 लाख करोड़ के नए नोट जमा किए हैं. इसमें 500 और 2000 के कुल 170 करोड़ रुपये के नए नोट भी शामिल हैं. वहीं 10 नवंबर से 10 दिसंबर यानी 1 महीने के दौरान एटीएम और काउंटर के जरिए कुल 4.61 लाख करोड़ रुपये के वैलिड नोट जनता को दिए जा चुके हैं.

इसके साथ ही आरबीआई ने नोटबंदी के बाद बैंकों के काम की तारीफ भी की है और कहा है कि बैंककर्मियों ने भारी कोशिशें की हैं. हालांकि इतने बड़े पैमाने पर कैश का लेनदेन होने से कुछ अव्यवस्था तो होनी थी जो हुई है. इसक अलावा आज आरबीआई ने 500 के नोटों की सप्लाई भी बढ़ाने की बात कही गई है, जिससे लोगों की दिक्कतें आने वाले समय में कम होंगी.

Share With:
Rate This Article