जम्मू में धुंध ने रोकी रफ्तार, कश्मीर में बर्फबारी से हाइवे हुआ बंद

जम्मू

कोहरे से उत्तर भारत में 82 ट्रेनें देरी से चल रही हैं.. जबकि 8 कैंसल हो चुकी हैं। 23 ट्रेनों को रिशेड्यूल किया गया है। कोहरे व तकनीकी कारणों से अगले तीन दिनों में 20 ट्रेनों को रद्द करने का एलान किया गया है। जम्मू-कश्मीर में कुछ इलाकों में बर्फबारी हुई है। इसके चलते हाईवे पर बर्फ की मोटी चादर जम गई है।

कश्मीर में रविवार को मैदानी इलाकों में हल्की बारिश हुई, जिससे करीब पांच महीनों की सूखी सर्दी से निजात मिली। कश्मीर के ऊपरी पहाड़ी इलाकों में बीती रात से बर्फबारी हो रही है। इसके चलते श्रीनगर-लेह हाईवे और मुगल रोड को बंद कर दिया गया है। बर्फबारी के कारण हाईवे पर बर्फ की मोटी चादर जम गई है।
घाटी में टेम्परेचर शून्य से काफी नीचे चला गया था। रविवार रात से हलकी बारिश शुरू हुई। गुलमर्ग में 1.4 मिमी बर्फबारी रिकॉर्ड की गई।
दिल्ली में घने कोहरे के कारण 82 ट्रेनें लेट, 8 रद्द, 23 का समय बदला, दिल्ली में कोहरे के चलते 8 ट्रेनें रद्द करनी पड़ी। हालांकि, विमानों को उड़ान भरने में कोई दिक्कत नहीं आई। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि रविवार सुबह 5.30 बजे सफदरजंग और पालम में विजिबिलिटी क्रमश: 50 मीटर और 100 मीटर थी।

हिमाचल की ऊंची चोटियों (लाहौल स्पीति और किन्नौर) पर बर्फबारी, जबकि कम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बारिश हुई..हलकी बर्फबारी के बावजूद रविवार को रोहतांग दर्रा से आवाजाही बंद रही, लेकिन दोपहर के बाद खोल दिया गया..लाहौल स्पीति को जोड़ने वाले कुंजुम दर्रे में बर्फबारी से यातायात बाधित हुआ..पारा लाचा, लेडी ऑफ केलांग, सप्त ऋषि, गेपन पीक सहित सभी चोटियों पर बर्फ की चादर बिछी है..शिमला के ठियोग सहित आसपास के क्षेत्रों में हल्की बारिश होने से ठंडक बढ़ गई है। मौसम में इस बदलाव की वजह वेस्टर्न डिस्टर्बेंस को बताया जा रहा है।

Share With:
Rate This Article