बम निरोधक दस्ते में शामिल होने वाली पहली पाक महिला बनी रफिया

इस्लामाबाद

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वाह प्रांत की 29 वर्षीय राफिया कासिम बेग बम निरोधक दस्ते (बीडीयू) में शामिल होने वाली पहली महिला बन गई हैं. इस प्रांत में निरंतर आतंकी हमले होते हैं. राफिया 7 साल पहले बतौर कांस्टेबल पुलिस बल में शामिल हुई थीं.

वह 15 दिनों के प्रशिक्षण के बाद बीडीयू में अपनी सेवा देंगी. स्थानीय मीडिया के अनुसार, राफिया नौशेरा के ‘स्कूल ऑफ एक्सप्लोसिव हैंडलिंग’ के 31 पुरुषों के सदस्यों के साथ प्रशिक्षण हासिल करेंगी.

अपने प्रशिक्षण के दौरान वह बमों के प्रकार, उनकी पहचान और उनको निष्क्रिय करने के तरीकों के बारे में सीखेंगी. बेहद शिक्षित परिवार से ताल्लुक रखने वाली राफिया ने कहा कि सात साल पहले एक सत्र अदालत के निकट हुए विस्फोट के बाद उन्होंने बीडीयू में शामिल होने का फैसला किया. अंतरराष्ट्रीय संबंध में स्नातकोत्तर डिग्री हासिल करने के बाद उन्होंने अर्थशास्त्र में भी स्नातकोत्तर किया. उनको कई बड़ी कंपनियों में नौकरी के प्रस्ताव मिले, लेकिन उन्होंने पुलिस बल में शामिल होने का फैसला किया.

Share With:
Rate This Article