गीता जयंती एक्सप्रेस को रेल मंत्री ने दिखाई हरी झंडी

कुरुक्षेत्र

अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव के मौके पर कुरुक्षेत्र-मथुरा गीता जयंती ट्रेन को रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. इस मौके पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर एवं रेलवे के उच्चाधिकारी भी मौजूद रहे.

पहले कार्यक्रम में BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को भी आना था, लेकिन ऐन वक्त पर उनका दौरा रद्द हो गया. श्रीकृष्ण की जन्मभूमि मथुरा से गीता जयंती ट्रेन सुबह 6 बजे रवाना होगी और दोपहर 12 बजे कुरुक्षेत्र के रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगी.

वापसी में यह ट्रेन कुरुक्षेत्र से 2 बजे चलेगी और रात 8 बजे दिल्ली होती हुई मथुरा पहुंचेगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि रेल मंत्री ने दोनों प्रदेशों के लाखों लोगों की मांग को पूरा करते हुए एक अनोखी सौगात देने का निर्णय लिया है. अब दोनों शहरों के लोग आराम से श्रीकृष्ण की जन्मभूमि और कर्मभूमि को निहार सकेंगे.

बृहस्पतिवार सुबह से ही उच्चाधिकारियों के निर्देश पर अधिकारी एवं कर्मचारी कार्यक्रम संबंधी इंतजाम करने में जुट गए थे. स्टेशन के वीआईपी गेट, अतिथियों के लिए मंच तथा सजावट संबंधी व्यवस्था बनाने में कर्मियों ने ठंड में भी खूब मशक्कत की.

कार्यक्रम के लिए विभिन्न तरह के सुगंधित फूलों से मंच सजाया गया। 2 हजार गमले तथा मंच के आगे अधिकारियों एवं अन्य लोगों के लिए करीब 200 कुर्सियां लगाई गई थीं, लेकिन अचानक BJP अध्यक्ष का आना कैंसिल हो गया.

वहीं, बता दें कि गीता जयंती ट्रेन का शुभारंभ 6 दिसंबर को होना था, लेकिन तमिलनाडू की मुख्यमंत्री जयललिता के 5 दिसंबर देर रात को निधन होने के चलते कार्यक्रम रद कर दिया गया था.

Share With:
Rate This Article