भारत के साथ तनाव कम करने में पाक ने संयुक्‍त राष्‍ट्र से मांगी मदद

संयुक्त राष्ट्र

भारत पर किसी भी तरह के द्विपक्षीय बातचीत के लिए दरवाजे बंद करने का आरोप लगाते हुए पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र संघ से गुहार लगाई है. पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से कहा है कि अंतरराष्ट्रीय संस्था कश्मीर मुद्दे से जुड़े रेजॉलूशन पर अपनी ‘नैतिक जिम्मेदारी’ निभाए और भारत के साथ तनाव को कम करने में मदद करे.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेश मामलों के स्पेशल असिस्टैंट सैयद तारिक फातिमी ने संयुक्त राष्ट्र के नवनिर्वाचित महासचिव एंटोनियो गुटेरेस , उप महासचिव इलियासन से मुलाकात की. मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के मिशन की तरफ से जारी किए गए प्रेस रिलीस के मुताबिक फातिमी ने संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष नेताओं से कहा कि भारतीय सेना एलओसी और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर संघर्षविराम का उल्लंघन कर रही है.

पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से शिकायत की कि भारत ऐसा इसलिए कर रहा है क्योंकि वह कथित मानवाधिकार उल्लंघन खासकर कश्मीर में आम लोगों पर कथित अत्याचार से अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान भटकाना चाहते हैं.

फातिमी के साथ संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की राजदूत मलीहा लोदी भी मौजूद थीं. फातिमी ने कहा कि इस्लामाबाद को उम्मीद है कि दक्षिण एशिया में शांति और स्थिरता सुनिश्चित करने में संयुक्त राष्ट्र अपनी भूमिका निभाएगा, खासकर जम्मू और कश्मीर विवाद पर रेजॉलूशन के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाएगा.

उन्होंने कहा कि नवाज शरीफ ने भारत की तरफ हाथ बढ़ाया और आपसी फायदेमंद रिश्तों को विकसित करने के लिए प्रयास किया, लेकिन नई दिल्ली ने कोई पहल नहीं की.

Share With:
Rate This Article