‘अम्‍मा’ के निधन से शोक में डूबा तमिलनाडु, समर्थकों का रो-रोकर बुरा हाल

चेन्‍नई

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री और एआईएडीएमके पार्टी की प्रमुख जे. जयललिता का सोमवार रात निधन हो गया. अपोलो अस्पताल के मुताबिक, जयललिता ने रात 11:30 बजे अंतिम सांस ली और उसके बाद उनका लाइफ सपोर्ट सिस्टम हटा लिया गया.

जयललिता के निधन से देश सदमे में है. चेन्नई में अम्मा के समर्थकों ने अपोलो हॉस्पिटल के बाहर हंगामा किया, ऐसे में हालात को काबू में करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया. केंद्र सरकार ने एक दिन का शोक घोषित किया है वहीं तमिलनाडु में 7 दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया है.

जयललिता का अंतिम संस्कार मंगलवार शाम 4:30 बजे को मरीना बीच पर किया जाएगा. अंतिम दर्शन के लिए उनका पार्थिव शरीर राजाजी हॉल में रखा गया है. लोग सुबह से ही अपनी लोकप्रिय नेता के अंतिम दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं.

इससे पहले शाम में जयललिता के निधन की अटकलें चली थीं, जिसे अपोलो अस्पताल ने तुरंत खा‍रिज कर दिया था. तमिल चैनलों ने जयललिता के निधन की खबर दी थी. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी चेन्नई जाकर जयललिता को श्रद्धांजलि देंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी जयललिता को श्रद्धांजलि देने के लिए चेन्नई रवाना हो गए हैं.

पीएम 12 बजे राजाजी हॉल में दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि देंगे. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी चेन्नई पहुंचेंगे. पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा जयललिता के अंतिम संस्कार में शामिल होंगे. दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल भी चेन्नई जाएंगे. केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू अंतिम संस्कार के दौरान मौजूद रहेंगे.

Share With:
Rate This Article