फरार कैदियों की गिरफ्तारी के लिए STF गठित, जेल प्रशासन के 3 अधिकारी सस्पेंड: डिप्टी सीएम

पंजाब: जेल प्रशासन के 3 अधिकारी सस्पेंड, फरार कैदियों की गिरफ्तारी के लिए STF गठित

चंडीगढ़/नाभा

नाभा जेल से फरार कैदियों के मामले पर डिप्टी सीएम सुखबीर सिंह बादल ने बड़ी कार्रवाई करते हुए डीजी जेल को सस्पेंड कर दिया है और नाभा जेल के अधीक्षक और उप-अधीक्षक को नौकरी से बर्खास्त कर दिया है.

डिप्टी सीएम ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि, जेल से कैदियों के फरार होने के पीछे की साजिश का पता लगाया जा रहा है और फरार आतंकियों को ढूंढने की हर संभव कोशिश की जा रही है, जिसके लिए खुफिया एजेंसियों की मदद ली जा रही है और स्पेशल टास्क फोर्स का गठन कर दिया गया है.

उन्होंने कहा कि, फरार आतंकी अपने मकसद में कभी कामयाब नहीं हो पाएंगे और जल्द ही पुलिस उन तक पहुंच जाएगी. पुलिस अधिकरियों को सस्पेंड किए जाने पर उन्होंने कहा कि, अधिकरियों की लापरवाही के लिए नाभा जेल के अधीक्षक और उप अधीक्षक को नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया है, जबकि डीजी जेल को सस्पेंड किया गया है.

गौरतलब है कि, नाभा की हाई सिक्योरिटी जेल में सुबह आठ बजे पुलिस की वर्दी में आए 8-10 हथियारबंद लोगों ने जेल पर हमला कर 6 कैदियों को छुड़वा लिया था. उन्होंने दो पुलिसकर्मियों को घायल कर दिया. हमलावर खालिस्तानी आंतकवादी हरमिंदर सिंह मिंटू, विक्की गौंडर, गुरप्रीत सिंह, नीटू दयोल, विक्रमजीत बिक्का और अमन सिंह टोडा को छुड़ा ले गए.

हरमिंदर सिंह मिंटू खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) का मुखिया बताया जा रहा है. पूरे पंजाब में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. नाभा सहित पूरे जिले में मुख्य मार्गों की नाका बंदी कर दी गई है और पुलिस ने जेल व इसके आसपास के इलाके को घेर लिया है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment