ट्रंप ने पेश किया 100 दिन का एजेंडा, कहा- TPP से अमेरिका का नहीं होगा भला

ट्रंप ने पेश किया 100 दिन का एजेंडा, कहा- TPP से अमेरिका का नहीं होगा भला

वाशिंगटन

अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पहले 100 दिन का एजेंडा जनता के सामने रखा है. 100 दिन की कार्ययोजना में डोनाल्ड ट्रंप ने व्यापार, ऊर्जा , राष्ट्रीय सुरक्षा और इमिग्रेशन नीति पर खास जोर दिया है.

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि ट्रांस पैसिफिक डील से अमेरिका अलग होगा, इस डील से अमेरिका को ज्यादा नुकसान होने का खतरा है. उन्होंने कहा कि इस डील से बेहतर है कि अमेरिका द्विपक्षीय संबंधों पर ज्यादा जोर दे.

डोनाल्ड ट्रंप की इस घोषणा के बाद जापान के पीएम शिंजो आबे ने कहा कि ट्रांस पैसिफिक पार्टनरशिप को अभी औपचारिक सहमति मिलनी है. लेकिन अमेरिका के शामिल न होने पर इस पार्टनरशिप का कोई मतलब नहीं रह जाएगा.

100 दिन की कार्ययोजना को पेश करते हुए डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वो अमेरिका को महान बनाने की दिशा में कार्य करने के लिए कृतसंकल्प हैं. डोनाल्ड ट्रंप ने अपने वीडियो संदेश में कहा कि उनके लिए अमेरिका का हित सर्वोपरि है.

अमेरिका को आगे बढ़ाने के लिए वो हरसंभव कदम उठाएंगे. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उनकी ये कोशिश है कि अमेरिका न केवल आर्थिक तौर पर मजबूत बने, बल्कि आम अमेरिकी नागरिकों को सभी सुविधाएं मिल सकें.

इमिग्रेशन के मुद्दे पर डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वो इस सिलसिले में किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं करेंगे. सत्ता संभालने के तुरंत बाद इस संबंध में दिशानिर्देश जारी किये जाएंगे. उन्होंने कहा कि अमेरिकी नागरिकों की कीमत पर बाहरी मुल्क के लोगों को रोजगार मुहैया नहीं कराया जा सकता है.

डोनाल्ड ट्रंप ने इस बात के भी संकेत दिए कि अगर कोई अधिकारी देश के अंदर लॉबिंग करते पाया गया तो उस पर पांच साल का प्रतिबंध लगाया जाएगा. इसके अलावा दूसरे देश के लिए लॉबिंग करने वालों के खिलाफ आजीवन प्रतिबंध लगेगा.

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अमेरिका की सुरक्षा के लिए पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे. इस सिलसिले में अमेरिकी खुफिया एजेंसी और रक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों का साफ संदेश है कि किसी भी तरह की चुनौती से निपटने के लिए वो हमेशा सतर्क रहें.

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अमेरिका की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ नहीं हो सकता है. आतंक के बदलते हुए स्वरूप को लेकर रिपब्लिकन सरकार को लेकर सतर्क है. उन्होंने कहा कि अमेरिका को महान बनाना ही उनका मात्र एक लक्ष्य है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment