LYMPHOMA MEET 2016: इन योद्धाओं के हौसले के आगे कैंसर ने तोड़ा दम

LYMPHOMA MEET 2016: इन योद्धाओं के हौसले के आगे कैंसर ने तोड़ा दम

दिल्ली

कैंसर के बारे में जानकारी हो तो उसे हराना मुश्किल नहीं है. इसी संदेश को आम लोगों तक पहुंचाने के लिए शनिवार को दिल्ली के रोहिणी में ‘लिंफोमा मीट 2016’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया.

can-6

कैंसर को मात दे चुके मरीजों द्वारा बनाए गए ‘लिंफोमा सपोर्ट ग्रुप इंडिया’ और राजीव गांधी कैंसर इंस्टीट्यूट के जाने माने ऑन्कोलॉजिस्ट के सहयोग से हुए इस कार्यक्रम में देश के कोने-कोने से लोग इक्ट्ठे हुए.

कार्यक्रम में आए कैंसर के मरीजों और कैंसर को मात दे चुके योद्धाओं ने अपने अनुभव बांटे और सभी ने कैंसर के बारे में जाने-माने डॉक्टर्स से उन भ्रांतियों का सच भी जाना जो कैंसर को लेकर समाज में फैला हुआ है.

can-7

कैंसर के लक्षण से लेकर उसके ट्रीटमेंट तक क्या-क्या सावधानी बरतनी चाहिए, इस बारे में भी  डॉक्टर्स ने जानकारी दी. कार्यक्रम में राजीव गांधी कैंसर इंस्टीट्यूट के सीईओ मिस्टर डी एस नेगी, एमएस डॉ. सुनील खेत्रपाल, डॉ. दिनेश भूरानी- (डायरेक्टर) डिपार्टमेंट ऑफ हेमाटोऑन्कोलॉजी एंड बोनमेरो ट्रांसप्लांट, डॉ. उल्हास बत्रा- (कन्सल्टेंट) मेडिकल ऑन्कोलॉजी, डॉ. रियाज अहमद- (कन्सल्टेंट) हेमाटोऑन्कोलॉजी, डॉ. नरेन्द्र अग्रवाल- (कन्सल्टेंट) हेमाटोऑन्कोलॉजी, डॉ. अखिल जैन- (कन्सल्टेंट) मेडिकल ऑन्कोलॉजी और डॉ. शिशिर सेठ- (हेमाटो डिपार्टमेंट हेड) अपोलो हास्पिटल के अलावा डॉ. मुकुल अग्रवाल ने भी लोगों को लिंफोमा के बारे में जानकारी दी.

लिंफोमा पेशेंट्स ने इस कार्यक्रम में लोगों को प्रेरित करने के लिए एक खास गीत भी प्रस्तुत किया. इस गीत पर देश के जाने-माने ऑन्कोलॉजिस्ट और कैंसर को मात दे चुके मरीजों ने रैंप वॉक भी किया.

can-4

अपने डॉक्टरों के साथ रैंप वॉक करते कैंसर को हरा चुके योद्धाओं के चेहरे की खुशी बता रही थी कि उन्होंने कैंसर को मात दे दी है और अब लोगों को ये समझाना है कि वो भी कैंसर को हरा सकते हैं. ‘जानोगे तो जीतोगे’ के नारे के साथ ‘लिंफोमा सपोर्ट ग्रुप इंडिया’ का मकसद कैंसर के खिलाफ लोगों को जागरुक करना है.

can-5

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment