6 साल के लिए निष्कासित रामगोपाल यादव की एक महीने के भीतर सपा में वापसी

6 साल के लिए निष्कासित रामगोपाल यादव की एक महीने के भीतर सपा में वापसी

लखनऊ

उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने पिछले महीने पार्टी से निकाले गए वरिष्ठ नेता प्रोफेसर रामगोपाल यादव का निष्कासन गुरुवार को रद्द कर दिया.

सपा प्रमुख ने जारी एक बयान में कहा ‘प्रोफेसर रामगोपाल यादव का समाजवादी पार्टी से किया गया निष्कासन तत्काल प्रभाव से निरस्त किया जाता है. प्रोफेसर रामगोपाल यादव राज्यसभा में समाजवादी पार्टी संसदीय दल के नेता, पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव, प्रवक्ता तथा पार्टी केंद्रीय संसदीय बोर्ड के सदस्य के रूप में कार्य करते रहेंगे.’

इस बीच, रामगोपाल ने निष्कासन रद्द होने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि नेताजी (मुलायम) अपने मन से कभी मेरे खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर सकते थे, इसीलिये मेरा निष्कासन रद्द किया गया है.

उन्होंने कहा ‘मैं तकनीकी रूप से निकाला गया था लेकिन मैं पार्टी से कभी बाहर नहीं गया था. मैं सपा का जन्मजात सदस्य हूं. पार्टी में मेरी वापसी हुई है, यह नेताजी की कृपा है. वह कभी मेरे खिलाफ नहीं थे. हम पार्टी के निर्देश के हिसाब से ही काम करेंगे. मैंने पहले भी कभी निर्देशों का उल्लंघन नहीं किया.’

गौरतलब है कि सपा के ‘चाणक्य’ कहे जाने वाले रामगोपाल को भाजपा के साथ साठगांठ करने और अनुशासनहीनता के आरोप में पिछली 24 अक्तूबर को पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया गया था. उनके निष्कासन का पत्र सपा के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने जारी किया था.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment