पानी लेने वाले तीन राज्यों से कीमत मांगेगा पंजाब, सरकार ने प्रस्ताव विधानसभा में किया पेश

पानी लेने वाले तीन राज्यों से कीमत मांगेगा पंजाब, सरकार ने प्रस्ताव विधानसभा में किया पेश

चंडीगढ़

पानी पर हक को लेकर पंजाब विधानसभा के स्पेशल सेशन में बुधवार को दो अहम प्रस्ताव पास हुए पहला सीएम प्रकाश सिंह बादल लेकर आए इस प्रस्ताव के जरिए विधानसभा ने अपने ही मंत्रियों-अफसरों समेत पूरी सरकारी मशीनरी को आदेश दिए कि एसवाईएल बनाने में कोई सहयोग न किया जाए.

किसी भी एजेंसी को जमीन न सौंपी जाए ये प्रस्ताव लाकर सरकारी मशीनरी को सुप्रीम कोर्ट की अवमानना से बचाने की कोशिश की गई, क्योंकि कोर्ट ने नहर बनाने की राय दी है.

दूसरा प्रस्ताव संसदीय कार्यमंत्री मदनमोहन मित्तल लेकर आए, ये नॉन राइपेरियन स्टेट्स राजस्थान, हरियाणा और दिल्ली से पानी पर रॉयल्टी वसूलने का था, जिसे बैंस बंधुओं के विरोध के बाद संशोधित किया गया, ‘रॉयल्टी’ को ‘कीमत’ किया गया.

डिप्टी सीएम सुखबीर बादल ने कहा, ‘पानी की कीमत तय करने के लिए चीफ सेक्रेटरी सर्वेश कौशल की अगुअाई में कमेटी बनाई जाएगी इसमें फाइनांस और इरिगेशन डिपार्टमेंट के सेक्रेटरी भी होंगे।’ वहीं कांग्रेस सदन से दूर रही, नेता विपक्ष चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा- सरकार तर्कहीन प्रस्ताव लेकर आई है, ये चुनावी स्टंट है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment