लड़की के झूठे आरोपो से परेशान होकर पटवारी ने किया सुसाइड, पड़ोसियों से परेशान था मृतक

लड़की के झूठे आरोपो से परेशान होकर पटवारी ने किया सुसाइड, पड़ोसियों से परेशान था मृतक

सिरसा

एक पटवारी द्वारा अपने ही ऑफिस में सल्फॉस खाकर जान देने का मामला सामने आया है, मरने से पहले पटवारी शैलेंद्र कुमार ने अपने दोस्त को फोन कर कहा कि उसने सल्फास की गोलियां खा ली है और उसने यह कदम समाज के डर की वजह से उठाया है.

सूचना मिलने पर पुलिस घटना स्थल पर पहुंच शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए सिरसा के सिविल हॉस्पिटल में भेज दिया, मृतक शैलेंद्र ने पटवारी ने दो सुसाइड नोट लिखे हैं, एक डीसी के नाम तो दूसरा डीएसपी के नाम था.

शैलेंद्र ने इस सुसाइड नोट में उसने अपनी मौत का जिम्मेदार पड़ोस में रहने वाली लड़की और उसके फैमिली को ठहराया है, दो दिन पहले पड़ोस की लड़की ने शैलेंद्र पर घर में घुसकर छेड़खानी करने का केस दर्ज करवाया, शैलेंद्र रानियां तहसील में राजस्व पटवारी के पद पर तैनात था और पिछले एक साल से ट्रेनिंग पर चल रहा था.

उन्हें दो महीने पहले ही उसे रानियां में पोस्टिंग मिली थी, शैलेंद्र की छह महीने पहले ही शादी हुई थी, सुसाइड नोट में छेड़छाड़ का आरोप लगाने वाली पड़ोसन के अलावा पवन, सीमा, परमानंद, गोगी उर्फ गोगराज, कृष्ण, विनोद, सतपाल, कृष्ण का लड़का छोटे वाला, राजू न्यौल, निहाल सिंह, सुरेंद्र निंबीवाल के नाम लिखे हैं.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment