लाहुल का लोट बैली ब्रिज टूटा, 200 गांव प्रभावित

मनालीः लाहुल का लोट बैली ब्रिज टूटा, 200 गांव प्रभावित

मनाली

लाहुल घाटी के लोट नाले पर बना बैली ब्रिज सोमवार को जेसीबी से लदे एक ट्राले का भार न सह सका और टूट गया. इससे घाटी का मुख्य तांदी-संसारी मार्ग अवरुद्ध हो गया है. पुल ढहने से करीब 2 सौ गांवो के 30 हजार लोगों की मुश्किले बढ़ गई है.

33 मीटर लंबे व 3 मीटर चौड़े पुल पर पलान और पांगी घाटी के लोग निर्भर है. 18 टन क्षमता के इस बैली ब्रिज को करीब 20 साल पहले बनाया गया था. सोमवार दोपहर ट्राला जेसीबी लेकर उदयपुर से केलंग की ओर आ रहा था कि बैली ब्रिज टूट गया और ट्राला भी बीच मे फंस गया. हालांकि कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है. बैली ब्रिज टूटने से उदयपुर, पांगी, केलाड़ के लोग भी प्रभावित होंगे.

जिला परिषद लाहुल-स्पीति के अध्यक्ष रमेश का कहना है कि इन दिनों लोग सर्दियों के चलते घरों में जरूरत का सामान एकत्रित कर रहे है. बैली ब्रिज टूटने से घाटी के लोगो की दिक्कते बढ़ गई है. रमेश और जयराम ठाकुर ने बीआरओ कमांडर से आग्रह किया कि बैली ब्रिज का जल्द निर्माण किया जाए और जब तक निर्माण नही होता तब तक अस्थायी हल निकाला जाए.

लाहुल-स्पीति के विधायक रवि ठाकुर और पूर्व मंत्री डॉ. रामलाल ने बीआरओ से शीघ्र समाधान की बात कही है. बीआरओ कमांडर कर्नल अरविंद अवस्थी ने बताया कि बीआरओ की 94 आरसीसी के ओसी जयवर्धन को मौके पर भेज दिया गया है.

बैली ब्रिज टूटने के कारणों का पता लगाया जा रहा है. प्राथमिक जानकारी के अनुसार ट्राले द्वारा बैली ब्रिज की क्षमता से अधिक भार पड़ जाने के कारण ऐसा हुआ है. सभी परिस्थितियां ठीक रही तो एक सप्ताह के भीतर बैली ब्रिज को तैयार कर लिया जाएगा. ट्रैफिक सुचारू करने के लिए कोई विकल्प निकाला जाएगा. ग्रामीणो की दिक्कतों को जल्द दूर करने का प्रयास किया जाएगा.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment