पंजाब सरकार ने किया SC के फैसले का विरोध, 16 नवंबर को बुलाया गया विधानसभा का सत्र

सवाईएल के मुद्दे को लेकर पंजाब कैबिनेट की बैठक बुलाई गई, जिसमें पंजाब सरकार ने एसवाईएल पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले का विरोध किया है, पंजाब सरकार ने कहा है कि वो प्रदेश के अंदर किसी भी कीमत पर एसवाईएल का निर्माण नहीं होने देंगे और ना ही किसी प्रदेश को एक बूंद पानी दिया जाएगाय.

इस मुद्दे पर पंजाब सरकार ने सोलह नवंबर को विधानसभा का विशेष सत्र भी बुलाया है और पंजाब कैबिनेट के सभी मंत्री राष्ट्रपति से भी मुलाकात करेंगे वहीं, सीएम बादल ने कहा है कि प्रदेश की शांति कायम रखी जाएगी और इस मुद्दे पर कानूनी लड़ाई लड़ी जाएगी.

सुप्रीम कोर्ट ने इस मुद्दे पर फैसला हरियाणा के हक में सुनायाहै जिसके बाद पंजाब सरकार फैसले को मानने से इंकार कर रही है और हरियाणा का पानी देने के मूड में बिलकुल भी नहीं है.

Share With:
Rate This Article