नए नोटों की जानकारी लेकर लौट रहे थे 8 बैंक कर्मचारी, भयानक हादसे में कोई नहीं बचा जिंदा

कानपुर

अनियंत्रित कंटेनर और मारुति वैन की टक्‍कर में एसबीआई के 7 कर्मचारियों और वैन सहित 8 लोगों की मौत हो गई, मौके पर पहुंची पुलिस ने दो घंटे के रेस्क्यू के बाद क्रेन से कंटेनर हटवाकर वैन में फंसे शवों को बाहर निकाला और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

हादसा कानपुर के बिधनू थानाक्षेत्र के हमीरपुर-सागर मार्ग के पास बुधवार देर रात हुआ, जानकारी के मुताबिक, कंटेनर कानपुर की तरफ से जा रहा था, जबकि एसबीआई के कर्मचारी वैन से घाटमपुर की तरफ से लौट रहे थे, अचानक बिनगवा गांव के पास कंटेनर और वैन में भिड़ंत हो गई और वैन हाइवे के किनारे बने गड्ढे में जा गिरी वैन के ऊपर कंटेनर गिर गया.
चीख पुकार सुनने के बाद लोगों ने हादसे की सूचना पुलिस को दी, पुलिस को काफी मुश्किल से क्रेन मिल पाई, क्रेन को कंटेनर हटाने में और शव निकालने में दो घंटे लग गए, तब तक वैन में बैठे सभी बैंक कर्मचारियों और वैन ड्राइवर की मौत हो चुकी थी.

बताया जा रहा है कि मृतक 500 और 1000 हजार के नोटों पर बैन लगने के बाद देर रात बैंक में इसकी तैयारियों का जायजा लेने के बाद लौट रहे थे, वे सभी इसलिए बैंक में रुके थे, ताकि जब 11 नवंबर को बैंक खुले तो किस तरफ से नोट बदले जाएंगे, कैसे पब्लिक डीलिंग की जाएगी, नई करेंसी को कैसे ग्रामीणों को दिया जाना है, नकली नोटों और असली नोटों की कैसे पहचान करनी है, इसमें लोगों को दिक्‍कत न हो.

एसपी रूरल राजेश कुमार के मुताबिक, कंटेनर वैन को घसीटते हुए गड्ढे में जा गिरा इस बीच कंटेनर वैन के ऊपर गिरा, जिससे वैन दब गई और इसमें बैठे सभी लोगों की मौत हो गई.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment