पाक जेल से रिहा हो अफगानिस्तान लौटेंगी 'हरी आंखों वाली' शरबत गुल

पाक जेल से रिहा हो अफगानिस्तान लौटेंगी ‘हरी आंखों वाली’ शरबत गुल

इस्लामाबाद

विशेष भ्रष्टाचार निरोधक और आव्रजन अदालत ने हरी नेशनल जियोग्राफिक चैनल का चेहरा बनी हरी आंखों वाली प्रसिद्ध अफगान गर्ल शरबत गुला को 15 दिन की कैद और पाकिस्तानी 1,10,000 रुपये के जुर्माने के भुगतान के बाद अफगानिस्तान वापस भेजने का आदेश दिया है.

अफगानिस्तान की मोनालिसा’ के तौर पर जानी जाने वाली गुला पहले ही 11 दिन जेल में गुजार चुकी हैं. गुला के वकील ने मीडिया को बताया कि उन्हें सोमवार को स्वतंत्र कर दिया जाएगा. 46 साल की महिला को बीते महीने धोखे से पहचान पत्र हासिल करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. इस आरोप को गुला ने गलत बताया था. विशेष अदालत ने शरबत गुला को 7 नवंबर को देश छोड़ने का आदेश दिया है.

नेशनल जियोग्राफिक चैनल की मैगजीन की फ्रंट पेज पर छपने के बाद शरबत गुला रातों रात मशहूर हो गई थी. यह तस्वीर उस वक्त छपी थी जब वह महज 12 साल की थीं. पत्रिका के फोटोग्राफर स्टीव मैक्करी ने हरी आंखों वाली इस बच्ची की तस्वीर 1984 में पेशावर के एक शरणार्थी शिविर में ली थी और उन्हें शरबत गुला बताया था.

तस्वीर की चर्चा पूरी दुनिया में हुई. इसने उन्हें ‘अफगान गर्ल’ के रूप में प्रसिद्ध कर दिया. तस्वीर को ‘मोनालिसा ऑफ अफगानिस्तान’ के रूप में शोहरत मिली थी. अदालत के फैसले के बाद, अफगानिस्तान के राजदूत उमर जखिलवाल ने अदालत के फैसले पर राहत और खुशी जताते हुए कहा कि शरबत गुला अब कानूनी मुसीबतों से मुक्त हैं। उन्होंने कहा कि वह जल्द ही शरणार्थी के अनिश्चय भरे जीवन से मुक्त हो जाएंगी और अपने देश रवाना हो जाएंगी जहां उनकी प्यारी छवि और राष्ट्रीय पहचान है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment