BCCI ने ECB लिखा खत, भारत दौरे का खर्च खुद उठाए इंग्लैंड बोर्ड हमारे पास पैसे नहीं- BCCI

सुप्रीम कोर्ट से नियुक्त न्यायमूर्ति आरएम लोढ़ा पैनल के करीबी सूत्र ने कहा कि बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर और सचिव अजय शिर्के का हठी रवैया कारण इंग्लैंड की पूरी सीरीज को खतरे में डाल रहा है.

बीसीसीआई ने लेखा परीक्षक की नियुक्ति नहीं होने का हवाला देते हुए अभी तक इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के साथ वित्तीय पहल से संबंधित समझौता पत्र पर हस्ताक्षर नहीं किये हैं, लेकिन सूत्र ने स्पष्ट किया कि यदि ठाकुर और शिर्के अपनी अनुपालन रिपोर्ट जमा नहीं करते हैं और व्यक्तिगत रूप से पैनल के समक्ष उपस्थित नहीं होते हैं तो इंग्लैंड टेस्ट सीरीज अधर में लटकी रहेगी.

सूत्र ने बताया कि लोढ़ा पैनल अब भी ठाकुर और शिर्के से हलफनामे का इंतजार कर रहा है। उन्होंने कहा कि अध्यक्ष और सचिव को सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के अनुसार दो सप्ताह के अंदर हलफनामे पेश करने हैं और फिर समिति के समक्ष उपस्थित होना है.

उन्होंने इनमें से कुछ नहीं किया बीसीसीआई अध्यक्ष को शपथपत्र भी पेश करना था यह भी नहीं किया गया है, इन सबकी गैरमौजूदगी में ठाकुर और शिर्के ने इंग्लैंड दौरा खतरे में डाल दिया है.

Share With:
Rate This Article