भैयादूज पर भाई को तिलक लगा लौट रही महिला पर टूट पड़ा तेंदुआ, बच्चों ने बचाई जान

सोलन

भैयादूज पर भाई को तिलक लगाकर मायके से घर लौट रही महिला पर तेंदुए ने हमला कर दिया. इससे महिला को गंभीर चोटें आई हैं. महिला के दो बच्चे बाल-बाल बचे हैं. बच्चों और महिला के चिल्लाने की आवाज सुनकर लोगों ने महिला को तेंदुए से बचाकर अस्पताल पहुंचाया.

यहां महिला का उपचार चल रहा है. हिमाचल के सोलन में हुई यह घटना मंगलवार सुबह करीब 7 बजे की है. जानकारी के अनुसार सोलन और जिला सिरमौर की सीमा पर स्थित मोहर गांव की शीला देवी (48) भैयादूज पर अपने मायके देयोथल पहुंचीं.

भाई को तिलक लगाकर वह वापस घर जा रही थीं तो नारग के समीप करीब 7 बजे जंगल में तेंदुए ने हमला कर दिया. महिला के साथ दो बच्चे भी थे. वे महिला से पीछे चल रहे थे. अपनी मां को तेंदुए के हमले से बचाने के लिए दोनों बच्चे जोर-जोर से चिल्लाने लगे.

आवाज सुनकर आसपास के खेतों में काम कर रहे लोग इकट्ठा हो गए. इन्हें देखकर तेंदुआ भाग गया. हमले में महिला के सिर, आंख और बाजू पर गंभीर चोटें आई हैं. लोगों की सहायता से महिला को क्षेत्रीय अस्पताल सोलन पहुंचाया गया.

महिला के भाई ने बताया कि इससे पहले भी गांव में तेंदुआ पशुओं और कुत्तों को अपना शिकार बनाता आ रहा है. यह पहली बार है कि जब तेंदुए ने इंसान पर हमला किया है. इससे क्षेत्र के लोगों में दहशत का माहौल है. लोगों ने वन विभाग से जल्द तेंदुए को पकड़ने की मांग की है.

Share With:
Rate This Article