इराक ने दी तुर्की को चेतावनी, कहा- सेना हटाओ, नहीं तो दुश्‍मन समझकर निपटेंगे

इराक ने दी तुर्की को चेतावनी, कहा- सेना हटाओ, नहीं तो दुश्‍मन समझकर निपटेंगे

बगदाद

इराके के प्रधानमंत्री हैदर अल अबादी ने तुर्की को चेतावनी देते हुए उससे तुरंत इराकी बॉर्डर से सेना हटाने को कहा है. अबादी ने साफ कर दिया है कि वह तुर्की से किसी भी तरह संघर्ष नहीं चाहता है, नहीं वह तुर्की से उलझना ही चाहता है.

वहीं तुर्की ने अपनी सफाई में कहा है कि उसने सीमा पर अपनी सेना मोसुल को आईएसआईएस के चंगुल से मुक्त कराने के लिए लगाई है. हालांकि इराक ने उसकी इस सफाई को सिरे से खारिज कर दिया है.

इराक के पीएम ने एक प्रेसवार्ता में कहा कि वह मोसुल की लड़ाई खुद लड़ेगा, इसमें उसे तुर्की का साथ नहीं चाहिए. लिहाजा अंकारा को अपनी सेना वापस बुला लेनी चाहिए. उन्होंने तुर्की पर आरोप लगाते हुए यहां कहा है कि इराक को अस्थिर करने में तुर्की का बड़ा हाथ है.

इराके ने यहां तक भी साफ कर दिया है कि यदि तुर्की नहीं माना और उससे दो-दो हाथ करने ही पड़े तो उसके लिए भी वह पूरी तरह से तैयार है. इराक का कहना है कि ऐसी सूरत में वह तुर्की को भी एक दुश्मन की ही तरह से देखेगा और ऐसे ही निपटेगा.

गौरतलब है कि तुर्की ने कल इराक से लगती अपनी सीमा पर टैंक रेजिमेंट के साथ काफी संख्या में फौज को तैनात किया है. लेकिन इसको लेकर इराक सख्त नाराज है. वहीं तुर्की के रक्षा मंत्री का कहना है कि तुर्की ने मामले की नजाकत को समझते हुए ही यह फैसला किया है. रक्षा मंत्री फिक्री इसिक ने कहा है कि उन्होंने पहले ही इसकी तैयारी कर रखी है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment