सफाईकर्मी ने बैंक के सामने निगला जहर, बैंक अधिकारियों पर प्रताड़ना का आरोप

गोहाना

गोहाना के लाठ गांव में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की ब्रांच में काम करने वाले एक सफाई कर्मचारी ने खुदकुशी कर ली. सफाई कर्मचारी ने बैंक के बाहर ही जहर खाकर खुदकुशी की. मृतक ने सुसाइड नोट में बैंक के अधिकारियों पर मानसिक रुप से परेशान करने का आरोप लगाया है.

पुलिस ने मृतक के बेटे की शिकायत के आधार पर बैंक मैनेजर समेत 4 लोगों के खिलाफ प्रताडना का केस दर्ज कर लिया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

गांव जौली निवासी सतपाल पुत्र सूबे ¨सह गांव लाठ स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की शाखा में सफाई कर्मचारी था. सतपाल के लड़के फूल ¨सह का कहना है कि उसके पिता की तबीयत खराब थी, जिसके चलते वह 28 व 29 अक्टूबर को ड्यूटी पर नहीं जा सके.

सतपाल 31 अक्टूबर को ड्यूटी पर पहुंचा. फूल ¨सह का आरोप है कि जब उसके पिता ड्यूटी पर गये तो बैंक मैनेजर शंभु कुमार, लिपिक जयवीर, सतीश व एक अन्य ने उसके साथ दु‌र्व्यवहार किया. आरोप है कि एक लिपिक ने उसके पिता को माला पहना कर उसकी बेइज्जती की.

इसके बाद सतपाल ने आहत होकर बैंक के सामने ही जहरीला पदार्थ निगल लिया. जब उसकी हालत बिगड़ी तो उसे गांव खानपुर कलां स्थित अस्पताल ले जाया गया. वहां चिकित्सकों उसे मृत घोषित कर दिया. सतपाल ने मरने से पहले एक शिकायत पत्र भी लिखा था, जिसमें बैंक मैनेजर व 2 लिपिकों पर उसे गालियां देने और धक्के देकर बैंक से बाहर निकलने का आरोप लगाया गया है.

सतपाल अपना मेडिकल दिखाना चाहता था, लेकिन अधिकारियों ने उसे देखा नहीं. पुलिस ने मृतक के बेटे फूल ¨सह की शिकायत पर मैनेजर शंभु व 3 कर्मचारियों पर आत्महत्या के लिए विवश करने का मामला दर्ज कर लिया है।

मृतक सतपाल के बेटे ने बैंक अधिकारियों व कर्मचारियों पर उसके पिता को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. शव का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सौंप दिया गया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. जांच में ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी.

Share With:
Rate This Article