हिसारः टोल प्लाजा पर मारपीट, CCTV में कैद हुई पूरी वारदात

हिसारः टोल प्लाजा पर मारपीट, CCTV में कैद हुई पूरी वारदात

हिसार

हांसी के मय्यड़ गांव में टोल प्लाजा के कर्मचारियों से मारपीट का मामला सामने आया है. मारपीट का अरोप मय्यड़ गांव के पूर्व सरपंच के बेटे दीपचंद और उसके साथियों पर लगा है. मारपीट की पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई हैं.

दीपचंद बिना टोल दिए कंबाइन मशीन टोल प्लाजा से ले जा रहा था जब टोल कर्मियों ने मना किया तो उसने मारपीट शुरू कर दी. पुलिस ने टोल कर्मचारियों की शिकायत पर मामले की जांच शुरू कर दी है.

इस बारे में मामले की जानकारी  देते सद्भावना कम्पनी के डीजीएम दीदर सिंह ने बताया कि कंटोल रूम कर्मी द्वारा बिना टोल लिये कंबाईन को प्लाजा से निकलवाने में असमर्थता जाहिर किये जाने पर दीपचंद और उसके साथियों ने टोल प्लाजा कर्मी के साथ मारपीट करने लगे और जान से मारने की धमकी देकर मौके से फरार हो गए.

पुलिस को दी शिकायत में टोल कर्मचारियों ने बताया कि 28 अक्टूबर की सुबह करीब साढ़े 8 बजे टोल से एक कंबाइन आई. जब चालक से टोल शुल्क मांगा तो नहीं दिया. इसके बाद विवाद हो गया और दीपा मय्यड़ व अन्य वहां आ गए.

दीपा मय्यड़ ने टोल के बूम बैरियर को उठाकर कंबाइन निकाल दी. इसके बाद वह और एक अन्य व्यक्ति कंट्रोल रूम में घुस आए. वहां पर वेलडेटर सचिन के साथ मारपीट की और कुर्सी उठाकर शीशे तोड़ने का प्रयास किया, लेकिन कर्मचारियों ने उनको पकड़ लिया.

बाद में इन्होंने असिस्टेंट टोल मैनेजर विकास के साथ भी मारपीट की और जान से मारने की धमकी देकर वहां से चले गए. इस बारे में पुलिस को फोन पर सूचना दे दी और बैठक में व्यस्त होने के कारण लिखित शिकायत नहीं दे पाए.

इसके बाद 30 अक्टूबर की रात करीब सवा 10 बजे दीपा मय्यड़ के कहने पर तीन व्यक्ति टोल के कंट्रोल रूम में आए और आरोप है कि उन्होंने वहां तैनात टोल सुपरवाइजर अरुण कुमार व आशु जिंदल के साथ मारपीट की व तोड़फोड़ की.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment