बराक ओबामा ने मनाया दीवाली का जश्न, बोले- उम्मीद है परंपरा जारी रहेगी

वाशिंगटन

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने व्हाइट हाउस के ओवल कार्यालय में पहली बार दीया जलाकर दीवाली का जश्न मनाया और उम्मीद जताई कि उनके बाद आने वाले नेता भी इस परंपरा को जारी रखेंगे.

वर्ष 2009 में, व्हाइट हाउस में निजी तौर पर दीवाली का जश्न मनाने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा ने अपने ओवल कार्यालय में अपने प्रशासन के कुछ भारतीय-अमेरिकियों के साथ दीया जलाने के बाद इस शानदार क्षण का जिक्र फेसबुक पोस्ट में किया.

ओबामा ने कहा, मुझे वर्ष 2009 में व्हाइट हाउस में दीवाली के जश्न की मेजबानी करने वाला पहला राष्ट्रपति बनने का गौरव प्राप्त हुआ था..मिशेल और मैं कभी नहीं भूल सकते कि भारत के लोगों ने किस तरह बांहें फैलाकर और दिल खोलकर हमारा स्वागत किया था और दीवाली पर मुंबई में हमारे साथ डांस किया था.

उन्होंने व्हाइट हाउस के फेसबुक पेज पर कहा, इस साल, मुझे ओवल कार्यालय में पहली बार दीया जलाने का सम्मान मिला. यह दीया इस बात का प्रतीक है कि किस तरह से प्रकाश हमेशा ही अंधकार पर विजय हासिल करता आया है. मैं उम्मीद करता हूं कि भविष्य के राष्ट्रपति इस परंपरा को जारी रखेंगे. ओबामा की यह पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो गई.

देर रात तक इसे डेढ़ लाख से ज्यादा लोग लाइक कर चुके थे और इसे 33 हजार से ज्यादा बार शेयर किया जा चुका था.

ओबामा ने कहा, पूरे ओबामा परिवार की ओर से, मैं आपको और आपके प्रियजनों को इस दीवाली पर शांति एवं खुशियों की शुभकामनाएं देता हूं. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘अमेरिका और दुनियाभर में जो भी लोग रोशनी के इस त्योहार को मना रहे हैं, उन्हें दीवाली मुबारक हो. चूंकि हिन्दू, जैन, सिख और बौद्ध दीया जलाते हैं, प्रार्थनाओं में इन्हें शामिल करते हैं, अपने घर सजाते हैं और प्रियजन का स्वागत करने के लिए एवं जश्न मनाने के लिए अपने द्वार खोलते हैं. हम मानते हैं कि यह दिन बुराई पर अच्छाई की और अज्ञान पर ज्ञान की विजय का प्रतीक है.

उन्होंने कहा, यह हमारे साझा अमेरिकी अनुभव के बारे में व्यापक सत्य भी बोलता है. यह इस बात की याद दिलाता है कि जब हम मतभेदों से परे देखते हैं तो कितना कुछ संभव हो जाता है. यह उन उम्मीदों और सपनों की झलक है, जो हमें बांधती हैं.

ओबामा ने कहा कि यह समय इन संबंधों को गहरा करने के साझा कर्तव्य का नवीकरण करने का है, एक-दूसरे की जगह खुद को रखकर देखने का और एक-दूसरे की नजर से दुनिया को देखने का और दूसरों को भाइयों एवं बहनों और साथी अमेरिकियों की तरह अपनाने का है.

राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन भारतीय-अमेरिकी समुदाय में खासी लोकप्रिय हैं, उन्होंने हिन्दुओं, सिखों, बौद्धों और जैन लोगों को दीवाली के अवसर पर मुबारक दी.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment