पाक सेना के आगे झुके नवाज, सूचना मंत्री परवेज रशीद को पद से हटाया

पाक सेना के आगे झुके नवाज, सूचना मंत्री परवेज रशीद को पद से हटाया

नई दिल्ली / इस्लामाबाद

पाकिस्तान की सेना के आगे झुके पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ. सेना के दबाव में नवाज को अपने ही एक मंत्री को हटाना पड़ा है. पाकिस्तान के सूचना मंत्री परवेज राशिद को डॉन अखबार में छपी सेना और सरकार के मतभेद की खबर के लिए जिम्मेदार मानते हुए हटा दिया है. माना जा रहा है पाकिस्तान की सेना परवेज राशिद से खुश नहीं थी.

परवेज राशिद को हटाए जाने पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि – ‘अब तक मिले सबूतों से ऐसा लगता है कि इस मामले में सूचना मंत्री से गलती हुई है. इसीलिए जांच पूरी होने तक उन्हें अपना पद छोड़ने के लिए कहा गया है.’

ये पूरा मामला पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में भारत की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद शुरू हुआ. दरअसल अक्टूबर में पाकिस्तानी पत्रकार सिरिल अलमाइदा ने डॉन अखबार में सेना और सरकार के बीच मतभेद को लेकर एक खबर छापी थी.

खबर में कहा गया था कि अक्टूबर में पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक में सेना और सरकार के बीच मतभेद खुलकर सामने आ गए थे. रिपोर्ट के मुताबिक उस बैठक में नवाज शरीफ ने कहा था कि सेना आतंकियों पर कार्ऱवाई करे वरना पाकिस्तान दुनिया में अलग थलग पड़ जाएगा.

इस खबर के सामने आने के बाद पाकिस्तान में हड़कंप मच गया था. खबर सामने आने के बाद पाक की सेना और सरकार ने किसी तरह के मतभेद की खबर को खारिज करते हुए आनन फानन में डॉन के पत्रकार सिरिल अलमाइदा के देश से बाहर जाने पर पाबंदी लगा दी.

जिसके बाद पाकिस्तान की मीडिया की तरफ से इस फैसले का जबरदस्त विरोध किया गया और पाकिस्तान की सरकार को झुकना पड़ा. उसके बाद से खबर के लीक होने के मामले की जांच शुरु हो गई.

इसी जांच के आधार पर पहली कार्रवाई सूचना मंत्री परवेज राशिद पर की गई है. लेकिन इस कार्रवाई से ये भी साबित होता है कि सेना और सरकार के बीच मतभेद की डॉन अखबार की खबर गलत नहीं थी,  इसीलिए उस खबर के लीक होने के बाद से सेना नवाज शरीफ सरकार पर दबाव बना रही थी.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment