सिंगर सपना चौधरी को दोबार जांच में होना होगा शामिल- हाईकोर्ट

सिंगर सपना चौधरी को दोबारा जांच में होना होगा शामिल- हाईकोर्ट

चंडीगढ़

हरियाणवी रागिनी गायिका सपना चौधरी के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट में पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने गुरुवार को दोबारा जांच में शामिल होने के निर्देश दिए हैं हाईकोर्ट ने इस दौरान संबंधित रागिनी को स्थानीय चैनल पर न दिखाने के भी निर्देश दिए, कोर्ट ने राहत जारी रखते हुए गिरफ्तारी पर रोक लगाने के निर्देश बनाए रखे हैं.

लगभग तीन माह पहले हरियाणवी रागिनी गायिका सपना चौधरी ने सेक्टर-29 थाना क्षेत्र के चकरपुर में आयोजित रागिनी कार्यक्रम पेश किया गया था, इसमें एक जाति विशेष पर टिप्पणी करने का आरोप लगाते हुए खांडसा गांव के सतपाल तंवर नामक व्यक्ति ने कहा था कि उनके द्वारा गाई गई रागिनी से एससी एसटी वर्ग के लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंची है.

शिकायतकर्ता ने सेक्टर-29 पुलिस थाना में सपना व अन्य लोगों के खिलाफ उक्त एक्ट के तहत मामला दर्ज करवा दिया था, इस मामले में गिरफ्तारी से बचने के लिए सपना चौधरी ने 2 सितंबर को गुडगांव जिला अदालत में अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी.

8 सितंबर को जिला अदालत ने सपना की याचिका को खारिज कर दिया था इसके बाद अब गिरफ्तारी से बचने के लिए वे हाईकोर्ट पहुंची है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment