पीएम की रैली का बहिष्कार करेंगे जाट नेता, 1 नवंबर को गुरुग्राम में होना है कार्यक्रम

पीएम की रैली का बहिष्कार करेंगे जाट नेता, 1 नवंबर को गुरुग्राम में होना है कार्यक्रम

सोनीपत

जाट नेताओं ने 1 नवंबर को गुरुग्राम में होने वाली पीएम मोदी की रैली के बहिष्कार का फैसला लिया है, सोनीपत में अखिल भारतीय जाट संघर्ष समिति के सदस्यों ने प्रेस कान्फेंस की और पीएम की रैली को लेकर फैसला लिया.

जाट नेताओं का कहना है कि जब तक सरकार उन्हे आरक्षण और आंदोलन में मारे गए लोगों के परिजनों को सरकारी नौकरी नहीं दे देती, उनका सरकार के खिलाफ संघर्ष जारी रहेगा, और इस दीवाली को वो काली दिवाली के तौर में मनाएंगे, आज नारनौल में जाट नेता मीटिंग कर आगे की रणनीति का खुलासा करेंगे.

जाट नेताओ के मुताबिक युवाओं के खिलाफ निकले वारंट को लेकर वो काफी खफा है कोर्ट से आए हुए नोटिस भी अब तक वापिस नहीं हुए है, वहीं सैनी कांड में भी जो बच्चें गिरफ्तार हुए है वो भी अब तक रिहा नहीं हुए है, इन सभी को लेकर जाटों में रोष है और वो रैली का बहिष्कार कर अपनी नारजगी जाहिर करेगें.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment