भीषण जंग के बीच 7 हजार परिवारों ने छोड़ा मोसुल- यूएन

अंकारा

इराकी शहरमोसुल में इराकी फौज और आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के बीच छिड़ी भीषण लड़ाई के बीच करीब 7 हजार परिवारों ने शहर छोड़कर दूसरी जगहों पर चले गए हैं. संयुक्त राष्ट्र के ऑफिस फॉर द कोर्डिनेशन ऑफ ह्यूमेनिटेरियन अफेयर्स के मुताबिक यह संख्या अभी और बढ़ भी सकती है.

मोसुल में चल रही जंग की जानकारी देते हुए संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता स्टीफन डुजेरिक ने बताया है कि यह लोग अपनी जान बचाने के लिए कुछ समय के लिए मोसुल से सुरक्षित ठिकानों में गए हैं, लेकिन जब यहां के हालात काबू में आ जाएंगे तो यह लोग अपने घरों में वापस आ जाएंगे.

यूएन प्रवक्ता के मुताबिक मोसुल छोड़कर गए सभी लोंगों को फिलहाल सहायता की दरकार है. उन्होंने बताया कि 18 अक्टूबर और इसके बाद से ही मोसुल से जाने वालों को अल हॉद सहायता प्रदान करा रहा है 1 इन सभी लोगों को फिलहाल आईएस के चंगुल से मुक्त हुई जगहों अल खली और अल अदला में रखा गया है. यह जगह मोसुल के दक्षिण और दक्षिण पूर्व में स्थित हैं.

स्टीफन ने बताया है कि मोसुल में कुछ दिनों से जारी भीषण जंग के बाद इराकी फौज ने कुछ गांवों को आईएस के चंगुल से मुक्त भी करवा लिया है. फिलहाल आईएस के गढ़ कहे जाने वाले इस मोसुल में सबसे भीषण लड़ाई इसके केंद्र में हो रही है.

गौरतलब है कि इराकी फौज को मोसुल पर कब्जा करवाने के लिए अमेरिकी समेत अन्य देशों की सैन्य टुकडि़यां भी लगातार यहां पर इराकी फौज से कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रही हैं. अमेरिकी फौज यहां पर इराकी फौज को ग्राउंड सपोर्ट प्रदान कर रही है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment