रत्नावली युवा महोत्सव का आगाज, राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने किया उद्घाटन

रत्नावली युवा महोत्सव का आगाज, राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने किया उद्घाटन

कुरुक्षेत्र

कुरुक्षेत्र विश्वविद्याल में राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने रत्नावली युवा महोत्सव का उद्घाटन किया. इस उत्सव में प्रदेशभर के 35 सौ कलाकार 32 विधाओं से प्रदेश की संस्कृति को एक मंच पर प्रस्तुत कर रहे हैं.

इस दौरान राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने कहा कि हरियाणा की संस्कृति से भारत की पहचान है. इस पावन धरा के कण-कण में सांस्कृतिक विरासत को देखा जा सकता है.

इस नृत्य नाटिका से श्रीमद्भागवत गीता को एक बार फिर कुरुक्षेत्र की कर्मभूमि में जीवंत कर दिया. कलाकारों ने कौरवों व पांडवों के जन्म से लेकर अंत तक की पूरी कहानी को नृत्य नाटक व ड्रामा के माध्यम से प्रस्तुत किया.

डीएवी गर्ल्स कॉलेज, यमुनानगर की छात्राओं ने इस प्रस्तुति से दुनिया को संदेश दिया कि युद्ध किसी समस्या का सामाधान नहीं है. युद्ध राजाओं के अहंकार की पीड़ा है. मानव ही मानव को युद्ध में मारता है.

राज्यपाल प्रोफेसर कप्तान सिंह सोलंकी ने सोमवार को कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के ऑडिटोरियम हॉल में युवा सांस्कृतिक एवं कार्यक्रम विभाग की तरफ से आयोजित रत्नावली युवा महोत्सव के उद्घाटन किया.

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि हरियाणा की संस्कृति से भारत की पहचान है. इस पावन धरा के कण-कण में सांस्कृतिक विरासत को देखा जा सकता है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment