टाटा ग्रुप के चेयरमैन पद से हटाए गए सायरस मिस्‍त्री, रतन टाटा बने अंतरिम चेयरमैन

टाटा ग्रुप के चेयरमैन पद से हटाए गए सायरस मिस्‍त्री, रतन टाटा बने अंतरिम चेयरमैन

दिल्ली

सायरस मिस्त्री को टाटा ग्रुप के चेयरमैन पद से हटा दिया गया है. इस फैसले के बाद रतन टाटा को 4 महीने के लिए टाटा ग्रुप का अंतरिम चेयरमैन बनाया गया है. टाटा समूह के नए चेयरमैन की तलाश सेलेक्शन पैनल करेगा और नए चेयरमैन के आने तक रतन टाटा को अस्थाई पद पर नियुक्त किया गया है.

सायरस मिस्त्री को करीब 4 साल पहले टाटा ग्रुप का चेयरमैन नियुक्त किया गया था. 29 दिसंबर 2012 को सायरस मिस्त्री ने रतन टाटा की जगह टाटा समूह के चेयरमैन का पद संभाला था. फिलहाल सायरस मिस्त्री को टाटा ग्रुप के चेयरमैन पद से हटाने के कारण का खुलासा नहीं किया गया है.

सेलेक्शन कमिटी में रतन टाटा के अलावा, उद्योगपति वेणु श्रीनिवासन, बेन कैपिटल प्राइवेट इक्विटी के मैनेजिंग डायरेक्टर अमित चंद्रा, राजनयिक एवं अमेरिका में भारत के पूर्व राजदूत रोनेन सेन तथा वार्बिक मैन्यूफैक्चरिंग ग्रुप के संस्था एवं चेयमैन तथा भारतीय प्रबंध संस्थान खड़गपुर के स्नातक लार्ड कुमार भट्टाचार्य को रखा गया है. टाटा ग्रुप के पदाधिकारियों के सेलेक्शन नियमों के मुताबिक कमेटी को 4 महीने के अंदर नए चेयरमैन चुनने की प्रक्रिया हर हाल में पूरी करनी है.

चर्चाएं हैं कि टाटा स्टील की स्थिति बहुत खराब चल रही है और इसके साथ टाटा समूह की बाकी कंपनियों के हालात भी खराब हैं जिसकी वजह से सायरस मिस्त्री को हटाया गया है. हालांकि शेयर बाजार और इंडस्ट्री को सायरस मिस्त्री के हटाए जाने के फैसले की भनक तक नहीं थी. एक बात और है कि टाटा से जुड़ी ये बड़ी खबर स्टॉक मार्केट के बंद होने के बाद आई है तो इस खबर का असर कल टाटा ग्रुप की कंपनियों के शेयरों पर जरूर दिखाई देगा.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment