हरियाणा में अब 65 की उम्र में डॉक्टर होंगे रिटायर, पहले 58 साल थी उम्र

हरियाणा में अब 65 की उम्र में डॉक्टर होंगे रिटायर, पहले 58 साल थी उम्र

चंडीगढ़

प्रदेश में सरकारी डॉक्टर्स की रिटायरमेंट की आयु 58 से बढ़ाकर 65 साल कर दी गई है, लेकिन प्रशासनिक पदों पर वे 58 साल तक ही काम कर सकेंगे इसके बाद अगले 7 साल उन्हें अस्पताल में सेवाएं देनी होंगी इनकी रिटायरमेंट 65 साल में ही मानी जाएगी इस दौरान उन्हें नियमित पे-स्केल के साथ वार्षिक वेतन वृद्धि का भी लाभ मिलेगा.

सेवाएं देने के लिए वह अस्पताल का चयन खुद कर सकेंगे, सीनियर होने के नाते एसीआर संबंधित सीएमओ के बजाय स्वास्थ्य मंत्री और स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) लिखेंगे, सीएम मनोहर लाल की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग के अफसरों की बैठक में इसे मंजूरी दी गई.

सीएम ने विभाग को इस संबंध में तुरंत आदेश जारी करने के निर्देश दिए हैं अब सर्विस रूल्स में संशोधन के तुरंत बाद यानी 31 अक्टूबर से पहले इनके आदेश जारी होने की उम्मीद है, फैल रहा है डेंगू, लेकिन काबू से बाहर नहीं:बैठक में बताया गया कि प्रदेश में डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया जैसी मौसमी बीमारियां फैल रही हैं, लेकिन हालात काबू में हैं.

अब तक डेंगू के 1401 मामले पाए गए पिछले साल इन बीमारियों के कारण 10 लोगों की मौत हो गई थी, 5200 से ज्यादा मामले सामने आए थे वहीं, मलेरिया के अब तक 7388 मामले सामने आए हैं. पिछले साल यह संख्या 9300 से ज्यादा थी.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment