तिब्बती रेफ्यूजियों पर दुकानदारों ने किया हमला, औरतों के साथ की गई छेड़खानी

बहादुरगढ़
मंगलवार सुबह तिब्बती शरणार्थियों और लोकल दुकानदारों के बीच झड़प हो गई, यहां सब्जी मंडी में लगने वाली तिब्बती मार्केट का विरोध कर रहे दुकानदारों ने न सिर्फ तिब्बतियों के तंबू वगैरह उखाड़ दिए, बल्कि उन्हें दौड़ा-दौड़ाकर पीटा भी यहां तक कि रेफ्यूजी महिलाओं ने छिपकर अपनी इज्जत बचाई.

प्राप्त जानकारी के अनुसार बहादुरगढ़ की सब्जी मंडी में हर साल 15 अक्टूबर से 15 फरवरी तक तिब्बती शरणार्थियों की मार्केट लगती आ रही है, हर बार जैसे ही यहां तिब्ब्ती शरणार्थी मार्केट लगाने आते हैं, स्थानीय दुकानदारी इसे विरोध में उतर आते हैं.

मंगलवार को भी इसी वजह से लोकल दुकानदारों ने तिब्बतियों को खदेड़ना शुरू कर दिया, जिनमें कुछ महिलाएं भी शामिल थी, तिब्बती महिला पेमा, जीरी, डोलमा, अकारमा आदि ने बताया कि वे अपने स्टॉल के लिए तंबू खड़ा कर रही थी, इसी दौरान काफी संख्या में लोग वहां पहुंचे और उन्होंने आते ही तंबुओं को उखाड़ना शुरू कर दिया.

इसका विरोध किया तो मारपीट भी की, वहीं महिलाओं के साथ छेड़छाड़ पर भी उतर आए इसके चलते पीड़ित महिलाओं को सब्जी मंडी की दीवार फांदकर और साथ लगते माहन नगर के इलाके में लोगों के घरों में छिपकर अपनी जान और इज्जत की रक्षा करनी पड़ी.

Share With:
Rate This Article